राजनीती

हिमाचल में भ्र्ष्ट कांग्रेस सरकार के परखच्चे उड़ाने वाले धुरंधर – ठाकुर अरुण सिंह !

पूरे भारत में कांग्रेस की उलटी गिनती जारी है. वंही हिमाचल में भी कांग्रेस अपने अंतिम पड़ाव पे दिखती है. अंतर्लकलह से जूझती, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और परिवार के भ्र्ष्टाचार में डूबी पूरी कांग्रेस पार्टी पूरे भारत में हिमाचल की छवि को दागदार कर रही है. एक समय था लोग हिमाचल के बारे में सुनके बोलते थे….अच्छा तो आप देवभूमि से हैं जहाँ बहुत सारे पर्यटक स्थल और देवी देवताओं का वास है…और अब बोलते हैं…अच्छा हिमाचल से हो आप…जिधर आपके मुख्यमंत्री जी फंसे हुए हैं करप्शन के मामलों में..

खैर ये तो तय है की हिमाचल में आने वाले विधानसभा चुनावो में कांग्रेस का सफाया हो जायेगा. पर हिमाचल में कांग्रेस को इस स्तर तक पहुँचाने में एक शख्स ने खास भूमिका अदा की है जिनका नाम है ठाकुर अरुण सिंह, एक ऐसा नाम जिन्हे हिमाचल प्रदेश में BJP का थिंक टैंक कहा जाये तो कोई दो राय नहीं. हालाँकि ठाकुर अरुण सिंह स्वयं न तो BJP के किसी बड़े पद पे विराजमान हैं न ही उन्होंने इसके लिए कभी लॉबिंग की या मीडिया में कभी उत्सुकता दिखाई, बल्कि पार्टी के निष्ठावान और कर्तव्यनिष्ट कार्यकर्ता होने का प्रमाण दिया…जो आंकड़े और तथ्य ठाकुर अरुण सिंह ने भ्र्ष्टाचार की इस मुहीम में काँग्रेस के खिलाफ जुटाए, वो किसी के बस की बात नहीं थी. इनके लगातार अथक प्रयासों से ही हिमाचल कांग्रेस बुरी तरह बैकफुट पे आ पहुंची है. चुनाव आते आते शायद हिमाचल कांग्रेस कहीं दोफाड़ न हो जाये इसकी भी पूरी संभावना है !

यही नहीं, एक एक करके उन्होंने समय समय पे ऐसे खुलासे किये जिससे हिमाचल में BJP को विपक्ष के रूप में काफी बल मिला. हालाँकि ये काम विपक्ष में बैठी BJP का होना चाहिए, परन्तु उसकी उसकी परवाह न करते हुए ठाकुर अरुण सिंह ने पार्टी और प्रदेश के लिए अपनी निष्ठा निभाई…बतौर लेखक भी ठाकुर अरुण सिंह अपनी राय नामी समाचार पत्रों में रखते रहते हैं. भूतपूर्व मुख्यमंत्री श्री प्रेम कुमार धूमल को छोटे सुपुत्र और वर्तमान सांसद अनुराग ठाकुर के भाई होने का बावजूद अपनी प्रोफाइल को साधारण रखने वाले ठाकुर अरुण सिंह हिमाचल में युवाओं में अपनी खासी पहचान रखते हैं, बुद्धिजीवी वर्ग और सोशल मीडिया में अपने खुलासो से काफी चर्चा में रहने वाले ठाकुर अरुण सिंह हिमाचल की राजनीती में कोई सक्रिय भूमिका निभाते हैं, ये अभी बहुत बड़ा सस्पेंस है !

 

Related posts

सहायक दवा नियंत्रक पर भ्र्ष्टाचार का केस दर्ज घर और दफ्तर समेत कई ठिकानों पर छापे,जयराम सरकार में किसी भ्र्ष्टाचारी की खैर नहीं

Viral Bharat

हिमाचल सचिवालय भर्ती मामला: कांग्रेस कर रही विरोध, जाने क्या कहता है नियम खुली कांग्रेस की गंदी राजनीती की पोल बिल में छुपे विरोध कर रहे कांग्रेसी

Viral Bharat

ब्रेकिंग न्यूज़ – दिल्ली हिंसा के खिलाफ कपिल मिश्रा का शांति मार्च, कहा- जाएं केजरीवाल अंकित शर्मा के भी घर

Viral Bharat