राजनीती

जय राम सरकार के बागवानी मंत्री ने रेलवे से मांगा कुछ ऐसा, बात बनी तो लखपति हो जाएंगे हिमाचल के टमाटर उत्पादक

जब से सत्ता में जय राम सरकार आई है इस सरकार ने प्रदेश के लोगों के हितों में कार्य करना शुरू कर दिया है।बहुत कम वक्त में ही किसानों के लिए कई अच्छे फैसले इस सरकार ने किए साथ ही रोजगार के अवसर भी प्रदान किये।

हिमाचल के टमाटर उत्पादकों के अच्छे दिन आने की आस बलवती हुई है। प्रदेश सरकार ने रेलवे में यात्रियों को दिए जाने वाले टमाटर की चटनी यानी कैचप व फ्रूट जैम के स्थान पर हिमाचल के उत्पादों को शामिल करने के लिए केंद्र सरकार से बात की है।

जयराम सरकार के बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन यानी आईआरटीसी के चेयरमैन महेंद्र प्रताप से मुलाकात कर उनसे आग्रह किया है कि रेलवे में यात्रियों को दिए जाने वाले टमाटर की चटनी यानी कैचप व फ्रूट जैम के स्थान पर हिमाचल के उत्पादों को शामिल किया जाए। राज्य सरकार के आग्रह पर रेलवे पहले ही हिमाचल के एचपीएमसी में तैयार नींबू पानी को जगह दे चुका है।

एचपीएमसी में तैयार होने वाला नींबू पानी रेलवे के यात्री पसंद कर रहे हैं। करीबन पांच लाख बॉटल एचपीएमसी रेलवे को बेच चुका है। अब बागवानी मंत्री का प्रयास है कि हिमाचल में पैदा होने वाला टमाटर भी अच्छा दाम हासिल करे। यदि रेलवे एचपीएमसी द्वारा तैयार टमाटर कैचप खरीदता है तो हिमाचल के टमाटर उत्पादकों को लाभ होगा। ऐसे में रेलवे की डिमांड आने पर एचपीएमसी टमाटर उत्पादकों से सारा टमाटर खरीद लेगा।

इससे किसानों को लाभ होगा और एचपीएमसी भी फायदे में आएगी। खुद मुख्यमंत्री किसानों को लेकर कई बार बात कर चुके है प्रधानमंत्री मोदी पहले ही किसानों को बड़ा तौफा दे चुके है समर्थन मूल्य बढ़ाकर।दिल्ली में आईआरटीसी के चेयरमैन से मुलाकात के दौरान बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ने रेल के मेन्यू में नींबू पानी को शामिल करने पर आभार भी जताया। यहां बता दें कि हिमाचल के सोलन जिला में सबसे अधिक टमाटर पैदा किया जाता है। इसके अलावा सिरमौर, कुल्लू व शिमला जिला में भी टमाटर पैदा किया जाता है। अमूमन किसानों को टमाटर के अच्छे दाम नहीं मिल पाते।

ऐसा इसलिए है कि टमाटर जल्द खराब हो जाता है और मंडियों में अधिक दिन तक नहीं टिक सकता। यदि टमाटर का कैचप तैयार हो जाए तो किसानों को लाभ होगा। यदि रेलवे एचपीएमसी द्वारा तैयार टमाटर कैचप खरीदे तो एचपीएमसी किसानों से बल्क में टमाटर खरीदेगा। कम खरीद पर एचपीएमसी को भी कोई लाभ नहीं होता। बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ने बताया कि उनके विभाग कका मकसद किसानों की आय को बढ़ाना है।

Related posts

धर्मशाला की धरती पर CM जयराम ठाकुर जी की आज हुई रैली में भी मिला आपार समर्थन जयराम सरकार की नीतियों से प्रभावित कई परिवारों ने थामा भाजपा का दामन

Viral Bharat

खुलासा – हदें पार कर रहे तबलीगी जमात के कोरोना संदिग्‍ध,आया एक और ऐसा सच सामने जिसने हिलाकर रख दिया पुरे देश को

Viral Bharat

कांग्रेस को लगा बड़ा झटका,मुख्यमंत्री की नीतियों से प्रभावित हो भाजपा में शामिल हुई कांग्रेस महिला नेता

Viral Bharat