राजनीती राज्यों से

जय राम सरकार ने शिक्षा मंत्री ने की वो पहल शुरू जिसके बाद प्रदेश ही नहीं देश में हो रही है चर्चा ,आप भी तारीफ किये बिना नहीं रह पाओगे

सूबे के शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने नई पहल शुरू की है. शिक्षा मंत्री ने स्कूलों का लोकार्पण खुद नहीं बल्कि स्कूली छात्राओं से करवाने का फैसला लिया है. जिसकी शुरुआत शिमला के कसुम्पटी विस क्षेत्र के क्यारकोटी मिडल स्कूल से की गई.इस पहल को लेकर प्रदेश और देश में चर्चा बनी हुई है !

शिक्षा मंत्री ने शनिवार को क्यारकोटी स्कूल में 65 लाख की लागत से निर्मित अतिरिक्त स्कूल भवन का छात्राओं के हाथों से लोकार्पण करवाया. भवन का लोकार्पण करते हुए छात्राएं भी खुश दिखाई दीं. उन्होंने शिक्षा मंत्री की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि आज पहली बार उन्हें लोकार्पण करने का मौका मिला है और हमने कभी सोचा भी नहीं था कि उन्हें भी कभी इस तरह का मौका मिलेगा.

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज का कहना है कि वे सभी स्कूलों में जहां भी भवनों का लोकार्पण करने जाते हैं, वहां छात्राओं से ही लोकार्पण वह करवाते हैं. स्कूल जिन्हें अर्पित किया जा रहा है अगर वही उसकी शुरुआत करें तो उस से बेहतर और क्या हो सकता हैं. उन्होंने कहा कि कन्याएं समाज को आगे बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण कड़ी हैं. एक कन्या दो परिवारों को शिक्षित करती हैं और पहली गुरु भी माता ही होती है इसलिए ये परंपरा शुरू की गई है.
सुरेश भारद्वाज ने कहा कि प्रदेश सरकार सरकारी स्कूलों के छात्रों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने पर बल दे रही है, जिसमें अध्यापकों की बड़ी भूमिका है. प्रतिस्पर्धा के इस दौर में छात्रों को अपने जीवन में किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार करने की आवश्यकता है. सरकारी स्कूलों के प्रति अभिभावकों की रूचि को बढ़ाने और विशेष रूप से एडमिशन नंबर्स को बढ़ाने के लिए प्राथमिक स्तर के बच्चों के लिए समग्र शिक्षा कार्यक्रम शुरू किया गया है. इस कार्यक्रम के तहत पहले चरण में 3391 चयनित स्कूलों में फ्री प्री प्राइमरी स्कूल एजुकेशन कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है.

शिक्षा मंत्री ने बताया कि अटल आदर्श विद्या योजना के तहत प्रदेश में इस साल 10 आदर्श आवासीय विद्यालय खोले जाएंगे. इन स्कूलों में सभी सुविधााओं के साथ फ्री शिक्षा प्रदान की जाएगी. ये केवल उन्ही विधानसभा क्षेत्रों में खुलेंगें, जहां नवोदय स्कूल नहीं हैं.

Image result for suresh bhardwaj

प्रदेश में पैर पसार रहे नशा माफिया को लेकर शिक्षा मंत्री ने कहा कि नशा सेवन एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है और युवा पीढ़ी विशेषकर स्कूल व कॉलेज के छात्र इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि अभिभावक व अध्यापक छात्रों में सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित कर उनकी उर्जा को सही दिशा प्रदान कर सकते हैं. समाज के प्रत्येक नागरिक का दायित्व है कि वे सभी प्रकार के नशे को खत्म करने के लिए सामूहिक अभियान चलाए.

बता दें शिक्षा मंत्री ने क्यारकोटी स्कूल में दो अतिरिक्त मंजिलें तैयार करने के लिए संबंधित विभाग को जल्द प्राकलन तैयार करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि नए स्कूल भवन बनने के बाद पुराने स्कूल भवन की मुरम्मत का काम पहाड़ी शैली में किया जाएगा.

Related posts

अभी-अभी : मुख्यमंत्री योगी का अयोध्या की धरती से बड़ा ऐलान सेकुलरों के उड़े होश कांग्रेस में हलचल

Viral Bharat

उत्तर प्रदेश में मुसलमान ..योगी आदित्यनाथ का गुणगान करते हुए.

Viral Bharat

ब्रेकिंग न्यूज़ : हिमाचल में 24 घंटे में 263 करोड़ का नुकसान, आपदा से निपटने के लिए CM ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग बैठक में CM ने दिए ये निर्देश

Viral Bharat