राजनीती राज्यों से

स्कूली बच्चों को लेकर जय राम सरकार का बड़ा फैसला,लोगों के साथ साथ बच्चों ने जताई ख़ुशी

हिमाचल में अब बच्चों को सांस्कृतिक कार्यक्रमों और अन्य समारोहों के लिए तीन घंटे से ज्यादा नहीं रोका जा सकेगा। प्रदेश सरकार ने बाल श्रम नियमों को कड़ा कर दिया है। नए नियमों में कार्यक्रम के दौरान बच्चों को विश्राम देना भी अनिवार्य किया गया है।इस फैसले को लेकर जहां प्रदेश की जनता ने ख़ुशी जताई है वहीं स्कूली बच्चों ने भी इस फैसले का खुलकर समर्थन किया है !

किसी भी कला की प्रस्तुति के लिए बच्चे तीन ही घंटे रहेंगे। इसमें विश्राम भी शामिल होगा। बच्चों के कार्यक्रमों के लिए आयोजकों को उपायुक्त से अनुमति लेनी होगी।

Image result for jai ram thakur in hindi

प्रधान सचिव श्रम एवं रोजगार ने बाल श्रम अधिनियम के नए नियमों की अधिसूचना जारी कर दी है। नई व्यवस्था के लिए हिमाचल सरकार ने हिमाचल प्रदेश बाल श्रम (प्रतिषेध और विनियमन) संशोधन नियम 2018 अधिसूचित किए हैं।

नए नियम के अनुसार स्कूलों में जब पढ़ाई चरम पर हो तो उस दौरान भी बच्चों को कार्यक्रम में भाग लेने के लिए नहीं कहा जाएगा। इसके अतिरिक्त शाम सात बजे से लेकर सुबह आठ बजे तक बच्चे कार्यक्रमों में अपनी प्रस्तुति नहीं देेंगे।

हिमाचल में अकसर स्कूली बच्चे धार्मिक और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भाग लेते हैं। इससे पहले बच्चों को कार्यक्रमों में प्रस्तुति देने के लिए कोई नियम नहीं थे।

Image result for suresh bhardwaj

– बच्चों के शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए सुविधाएं सुनिश्चित करना
– पोषक आहार और स्वच्छ वातावरण की व्यवस्था
– दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति करना
– यौन अपराध सुरक्षा
– पांच बच्चों के लिए एक उत्तरदायी व्यक्ति की नियुक्ति
– समारोह में अर्जित आय में से कम से कम 20 फीसदी राशि बालक के नाम पर बैंक में जमा करनी होगी

Related posts

अब आया दंगाई पुलिस के हाथ,आप नेता ताहिर हुसैन की आत्मसमर्पण याचिका खारिज, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Viral Bharat

स्वास्थ्य मंत्री :- राज्य में कोरोना वायरस से निपटने के लिए किए जा रहे हर संभव प्रयास,इससे बचाव और नियंत्रण संबंधित आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये गए

Viral Bharat

लोगों के लिए जीवनदान साबित होगी हिमाचल में शुरू होने वाली हैली एम्बुलैंस,2019 से इस सेवा की शुरुआत होने जा रही है

Viral Bharat