राजनीती राज्यों से वायरल

जय राम सरकार ने इस विभाग में खोला नौकरियों का पिटारा,एक साथ भरे जायेंगे 1295 पद

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर जहां एक तरफ हिमाचल में निवेश लाने के लिए दिन रात कार्य में जुटे हुए हैं। दूसरी तरफ हिमाचल के युवाओं को सरकारी नौकरी के अवसर भी प्रदान करने में लगे हुए हैं। हिमाचल सरकार एचआरटीसी में 1295 चालक और परिचालकों की भर्ती करने जा रही है। इसमें 795 चालक और 500 परिचालक रखे जाएंगे। परिचालकों की लिखित परीक्षा का जिम्मा हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (एचपीयू) को सौंपा गया है।

Image result for JAI RAM THAKUR

हाल ही में एचआरटीसी में 176 पदों के लिए चल रही चालकों की भर्ती के लिए ड्राइविंग टेस्ट हो चुके हैं। परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने बस अड्डा प्रबंधन एवं विकास प्राधिकरण के निदेशक मंडल की बैठक के बाद यह जानकारी दी।

परिवहन मंत्री ने बताया कि एचआरटीसी में कई पद खाली हैं। चालक-परिचालकों के रिक्त पदों को समय-समय भरा जा रहा है, लेकिन लिपिक और अन्य स्टाफ की भर्ती करीब नौ सालों से नहीं हुई।

ऐसे में इन पदों को भी शीघ्र ही भरा जाएगा। परिवहन निगम की किथ एंड किन योजना के तहत 131 लोगों को नौकरी दी गई है। इस योजना में निगम में नौकरी के दौरान जिन कर्मियों की मौत हो जाती है, उनके आश्रितों को निगम नौकरी देता है।हिमाचल में गैस एजेंसियों को पेट्रोल पंप खोलने के लिए निगम जमीन देगा। इसके लिए एजेंसियों से उचित दामों में डीजल लिया जाएगा। बंजार बस हादसे की रिपोर्ट पर परिवहन मंत्री ने कहा कि जो बस गिरी है, उसमें 87 सवारियां थीं।

Image result for govind thakur

यह बस दो जगह खराब हुई थी। बड़ी बात यह है कि इस बस का इंजन कम कैपेसिटी का था, परिवहन विभाग के जिस अधिकारी ने इस बस का फिटनेस प्रमाण पत्र दिया है, उस पर कार्रवाई होगी।लोनिवि के इंजीनियर इधर-उधर घूमते रहे, लेकिन उन्हें यह नहीं लगा कि यह मोड़ तीखा है, इसकी रिपेयर होनी चाहिए। इसमें लोनिवि, पुलिस और परिवहन विभाग तीनों शामिल हैं। अब इन्हें नोटिस जारी किए जा रहे हैं।

पूर्व सरकार के कार्यकाल में खरीदी गई 12 मीटर लंबी बसें परिवहन निगम के लिए आफत बन गई हैं। आखिर किस आधार पर ये बड़ी बसें हिमाचल के लिए ली गयी थी। ये तो सीधे तौर पर जांच का विषय है ये बसें सड़कों में खड़ी जंग खा रही हैं। परिवहन निगम ने इन्हें चलाने से मना कर दिया है। परिवहन मंत्री ने तर्क दिया है कि 12 मीटर लंबी बसें हिमाचल में नहीं चल सकतीं।इससे सड़कों पर जाम लगेगा। बसों को तीखे मोड़ पर मोड़ना खतरे से खाली नहीं। पूर्व में जवाहर लाल नेहरू अर्बन रिन्यूअल मिशन (जेएनयूआरएम) के तहत 325 बसें ली गई थीं। इसमें 96 बसें ऐसी है जो 12 मीटर लंबी हैं।करे कोई भरे कोई किसने कहा था पूर्व सरकार को इतनी लम्बी बसें लेने के लिए। अब करोड़ो रुपए की ये वर्वादी ही है।

Related posts

प्रदेश में हिमकेयर योजना के अन्तर्गत जनवरी माह में 18,852 आवेदन पंजीकृत,जनवरी माह से दुबारा हिमकेयर के कार्ड बनना हुए है शुरू

Viral Bharat

जयराम सरकार की सहायता किसानों की मेहनत और कृषि विभाग के सहयोग,से बदली बड़ा भंगाल के लोग की इस तरह किस्मत

Viral Bharat

हवाई जहाज के कैबिन की तरह होंगे बिलासपुर-लेह ट्रैक पर चलने वाली ट्रेन के कोच,मोदी-जय राम सरकार में आखिर इस तरह आई काम में तेज़ी

Viral Bharat