राजनीती, राज्यों से, वायरल

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नृतेत्व में विकास के पथ पर हिमाचल,चण्डीगढ़ में रोड शो के दौरान 5 हजार करोड़ रुपये के 25 एमओयू हस्ताक्षरित

Viral Bharat / August 13, 2019

मुख्यमंत्री की उपस्थिति में विभिन्न औद्योगिक घरानों के साथ पांच हजार करोड़ रुपये के 25 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए। इस साल नवंबर में आयोजित की जाने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट से पहले राज्य सरकार अभी तक 35,231 करोड़ की निवेश क्षमता के 297 समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित कर चुकी है। विकास के पथ पर आगे बढ़ता हिमाचल जो विरोधी आज इन सबका मजाक उड़ा रहे हैं उन्हें सिर्फ एक बात आज में ये लेख लिखते हुए बोलना चाहता हूँ तुम लोगों से कुछ नहीं हुआ लेकिन जो मुख्यमंत्री प्रदेश के विकास के लिए कर रहे हैं वो तुम हजम नहीं कर पा रहे हो।

 

सबको पता है कोई भी कंपनी खड़े होने में सालों लग जाते हैं लेकिन उसकी शुरुआत इसी तरह ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने से होती है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नृतेत्व में हिमाचल विकास के पथ पर बहुत आगे जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य व्यापार में सुगमता के अंतर्गत फास्ट मूवर श्रेणी में शीर्ष स्थान पर है। हिमाचल में एकल खिड़की अनुश्रवण एवं स्वीकृति प्राधिकरण दक्ष, पारदर्शी, समयबद्ध और जबावदेह प्रशासन के माध्यम से निवेशकों को बेहतर सेवाएं प्रदान करने के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

Image may contain: 5 people, people sitting

राज्य पर्यटकों को रोमांच, वन्य जीवन, ईको पर्यटन, धरोहर, आध्यात्मिक, स्मारक, धार्मिक, स्किईंग आदि गतिविधियों का आनन्द प्राप्त करने का अवसर प्रदान करता है। हम राज्य में सतत् पर्यटन को प्रदेश का प्रमुख आय का साधन बनाकर प्रदेश को एक आकर्षक वैश्विक पर्यटन गंतव्य बनाने के लिए वचनबद्ध हैं।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार पर्यटन, आयुष, सूचना प्रौद्योगिकी एवं इलैक्ट्रॉनिक्स तथा जल विद्युत जैसे क्षेत्रों में भी उद्योग मित्र नीतियां लेकर आ रही है। प्रदेश सरकार पहली ग्लोबल इंवेस्टर्स मीट आयोजित करने जा रही है, जिसके माध्यम से प्रदेश को वैश्विक प्रतिस्पर्द्धात्मक एवं भारतीय राज्यों में अग्रणी बनाने पर बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट में पर्यटन, आयुष, वैलनेस, उत्पाद, फार्मास्यूटिक्लस, रियल एस्टेट, जल विद्युत, कृषि व खाद्य प्रसंस्करण जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर ध्यान केन्द्रित किया जाएगा।

Image may contain: 3 people

मुख्यमंत्री ने सिंगला बिल्डर्स एण्ड प्रमोटर्स के निदेशक अमन सिंगला से भेंट की, जिन्होंने रियल एस्टेट तथा रिज़ार्ट क्षेत्र में लगभग 300 करोड़ से लेकर 500 करोड़ रुपये तक के निवेश की इच्छा व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में कपड़ा उद्योग इकाइयों को स्थापित करने में रूचि दिखाने वाले ट्राईडेंट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अभिषेक गुप्ता के साथ भी बातचीत की।

उन्होंने ज़िला शिमला के सुन्नी क्षेत्र में सीमेंट प्लांट स्थापित करने में रूचि दिखाने वाले डालमिया ग्रुप के कार्यकारी निदेशक हरजीत सिंह से भी बैठक की। मुख्यमंत्री की उपस्थिति में इस प्लांट को स्थापित करने के लिए 2500 करोड़ रुपये का समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया।

Image may contain: 5 people, people smiling, people standing

मुख्यमंत्री ने पर्यटन क्षेत्र में लगभग 100 करोड़ रुपये का निवेश करने में रूचि दिखाने वाले जय डायमंड प्राईवेट लिमिटेड के अध्यक्ष हुकम चन्द के साथ बातचीत की।ज़िला सोलन के बद्दी में फार्मा प्लांट स्थापित करने के लिए राज्य सरकार और ऐश्वर्या लाईफ साईंसिज के नीरज कुमार के बीच 100 करोड़ रुपये का समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में 300 करोड़ रुपये के निवेश से 15 मैगावाट के पावर प्लांट को स्थापित करने के लिए सूनोमैटिक पावर प्राईवेट लिमिटेड के दीपक सैनी के साथ भी बातचीत की।जय राम ठाकुर ने रियल एस्टेट में 200 करोड़ से लेकर 300 करोड़ रुपये का निवेश करने के इच्छुक होम एण्ड लैंड प्लानर के निदेशक अमनदीप सिंह गिल के साथ बातचीत की।

उन्होंने प्रदेश में पांच सितारा होटल स्थापित करने के लिए एएचजी होटलों के मालिक के.सी. ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विकास शर्मा के साथ बातचीत की। ज़िला सोलन के कसौली में 530 करोड़ रुपये के निवेश से पांच सितारा होटल तथा वरिष्ठ नागरिकों के लिए 100 बिस्तरों वाले अस्पताल के लिए समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया।मुख्यमंत्री ने सुखजीत स्टार्च एण्ड कैमिकल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष तथा सुषमा बिल्डटैक लिमिटेड के प्रतिनिधि के साथ भी बैठक की।

प्रदेश में सेवा प्रशिक्षण केन्द्रों को स्थापित करने के लिए राज्य सरकार तथा पम्पकाट के प्रतिनिधि के.एस. भाटिया के बीच 200 करोड़ रुपये का समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया।ज़िला सोलन में वर्तमान रिजार्ट के विस्तार के लिए मैसर्ज फोरेस्ट हिल रिजार्ट के साथ 20 करोड़ रुपये का समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया।

ज़िला सोलन में फार्म टू फोर्क मॉडल स्थापित करने के लिए एचआरडी एग्रो लिमिटेड के साथ 25 करोड़ रुपये का समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया। स्टार्च निर्माण के लिए मैसर्ज न्यूज़न स्टार्च के साथ 47.72 करोड़ रुपये का समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया। सिरमौर के पांवटा साहिब में कोटिंग रैडी मिक्स इकाई स्थापित करने के लिए फार्मा फोरस लैब यूनिट के साथ 6.33 करोड़ रुपये तथा वाटर पार्क स्थापित करने के लिए रॉक एन रॉल थीम पार्क के साथ 16.53 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किए गए। कालाअम्ब में ग्लास टयूब प्लांट

Image may contain: 8 people, people smiling, people standing

स्थापित करने के लिए स्कोट कैशा के साथ 15 करोड़ रुपये जबकि राजश्री फैबरिक के साथ नॉन इवन फैबरिक प्लांट स्थापित करने के लिए 11.78 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।उद्योग बिक्रम सिंह ने कहा कि प्रदेश में निवेशकों की सुविधा के लिए निवेश प्रोत्साहन और सुविधा केन्द्र स्थापित किया गया है ताकि उन्हें मौके पर ही हर प्रकार की सुविधा प्रदान की जा सके।

मुख्य सचिव बी.के. अग्रवाल ने कहा कहा कि हिमाचल प्रदेश में कुशल, पारदर्शी प्रशासन है और औद्योगिक प्रस्तावों को बहुत कम समय में स्वीकृतियां प्रदान की जा रही हैं, इसके अतिरिक्त प्रदेश में प्रशिक्षित श्रमशक्ति और शांत माहौल है जो उद्यमियों को अतिरिक्त लाभ प्रदान करता है।अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत करते हुए कहा कि हिमाचल सरकार निःसन्देह देश का सर्वश्रेष्ठ निवेश स्थल बनने का ध्येय प्राप्त करेगा।