राजनीती, राज्यों से, वायरल

गुणवत्ता से ना हो समझौता ना हो पाए कोई धांधली,एक करोड़ से ज्यादा राशि के प्रोजेक्टों पर उठाया मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बड़ा कदम

Viral Bharat / October 1, 2019

ईमानदार सरकार का हर प्रयास विकास का एक और बड़ा कदम मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा। सत्ता में आने के बाद से ही मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर खुद आगे आकर प्रदेश के विकास के प्रति गंभीर रूप से कार्य कर रहे हैं। आज उनकी मेहनत की वजह से हजारो करोड़ो का निवेश हिमाचल में आ रहा है। प्रदेश में चल रहे प्रोजेक्टों की गुणवत्ता को लेकर भी जयराम सरकार कार्य कर रही है यही वजह है गुणवत्ता में कमी कई अधिकारी नपें हैं कई घोटालेबाज जयराम सरकार ने सलाखों के पीछे पहुंचाएं हैं।

ये भी पढ़े :जयराम सरकार का एक और बड़ा कदम जिसके बाद अब अफसर से चपरासी तक अब सबको देना होगा संपत्ति का ब्योरा

एक बहुत अच्छी पहल करते हुए जयराम सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। हिमाचल में एक या इससे अधिक करोड़ रुपये के प्रोजेक्टों की निगरानी मुख्यमंत्री कार्यालय अब खुद करेगा। प्रोजेक्टों में गुणवत्ता और धांधली की आशंका के चलते यह फैसला लिया गया है। अभी तक प्रदेश में निर्माणाधीन प्रोजेक्टों के कार्यों की निगरानी विभाग और बोर्ड के अधिकारी स्वयं करते आ रहे हैं।

jairam thakur के लिए इमेज परिणाम

अब यह अधिकारी एक करोड़ से कम प्रोजेक्टों की निगरानी करेंगे जबकि बड़े प्रोजेक्टों के कार्यों का निरीक्षण मुख्यमंत्री क्वालिटी कंट्रोल विंग करेगा। मुख्यमंत्री कार्यालय में प्रोजेक्टों के कार्यों में गड़बड़ी की आशंका को लेकर 90 शिकायतें आई हैं।इसमें 60 शिकायतें लोक निर्माण विभाग, हिमुडा, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग, बिजली बोर्ड, वन विभाग, पंचायती राज विभाग से पहुंची हैं। 30 ऐसी शिकायतें है जो विकास कार्यों के प्रोजेक्टों से हटकर है।

अब मुख्यमंत्री क्वालिटी कंट्रोल विंग मौके का निरीक्षण करेगा। अगर मौके पर गड़बड़ी पाई जाती है तो ठेकेदार और विभाग के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। सरकार ने विकास कार्यों की निगरानी के लिए क्वालिटी कंट्रोल विंग खोला है। छह अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम गठित की है। टीम का काम मौके का निरीक्षण करने का है। कार्यों मौके का निरीक्षण करना है।

हिमाचल में चल रहे प्रोजेक्टों की गुणवत्ता को लेकर सैंपल जुटाए जाएंगे। अगर विकास कार्यों में घटिया सामग्री पाई जाती है तो अफसरों के खिलाफ कार्रवाई होगी। -संजय कुंडू, क्वालिटी कंट्रोल विंग प्रभारी