राजनीती राज्यों से वायरल

93 हजार करोड़ का निवेश जमीन पर उतारने को जयराम सरकार ने कसी कमर,उठाने जा रही है ये बड़ा कदम

आज देश और प्रदेश नहीं बल्कि दुनिया देख रही है किस तरह से हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी की मेहनत से हिमाचल ने इतनी बड़ी ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट का सफल आयोजन किया। अभी जयराम सरकार को सत्ता में आये हुए पुरे 2 साल भी नहीं हुए हैं लेकिन उसके बावजूद इतना बड़ा और सफल आयोजन करके मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी ने बता दिया है की उनके नृतेत्व में हिमाचल प्रदेश विकास के पथ पर बहुत जल्दी आगे बढ़ेगा।

HIMACHAL INVESTORS MEET के लिए इमेज परिणाम

हिमाचल की जयराम सरकार 93 हजार करोड़ के निवेश को जमीन पर उतारने के लिए विधानसभा में विधेयक लाएगी। यह विधेयक अगले महीने दिसंबर में धर्मशाला में होने वाले शीत सत्र में लाया जाएगा। ये अपने आप में सरकार द्वारा उठाया जाने वाला बहुत बड़ा कदम है। ये दिखाता है की जयराम सरकार खुद मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी निवेश को धरातल पर जल्द से जल्द लाना चाहते हैं। उद्योगपतियों के सहयोग के लिए परियोजना कार्यान्वयन एजेंसी (पीआईए) गठित होगी। धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट के बाद सरकारी स्तर पर इसके नियम बनाने की प्रक्रिया सरकार ने शुरू कर दी है।

इस एजेंसी में उद्योग विभाग के कुछ अफसर और विभिन्न कंपनियों के युवाओं को शामिल किया जाएगा। एजेंसी को वरिष्ठ आईएएस अधिकारी लीड करेगा। यह कंपनी सीधे प्रदेश सरकार यानी मुख्यमंत्री कार्यालय एवं मुख्य सचिव कार्यालय को रिपोर्ट करेगी। इस एजेंसी में युवाओं का भी प्रतिनिधित्व रहेगा। इससे ये लोग उद्योगपतियों के काम निपटाने में सहयोग करेंगे। प्रदेश सरकार का मानना है कि हिमाचल में करोड़ों रुपये का निवेश करने वाली कंपनियों को परेशानी में नहीं डाला जाएगा।

HIMACHAL INVESTORS MEET के लिए इमेज परिणाम

हिम प्रगति पर हिमाचल के टॉप एमओयू

  • प्रोक्टर एंड गैबल – 159 करोड़
  • मालसन डिसटिलेरिज- 120 करोड़
  • दीतांशु आईएनसी – 120 करोड़
  • थ्री एस टेक्नोलॉजिस – 150 करोड़
  • सीएसए इन्फ्राटेक – 200 करोड़
  • मोरपैन लैब्स 100 करोड़
  • एसएस आर ग्रुप – 250 करोड़
  • ऐश्वर्या लाइस साइंसेज – 100 करोड़
  • गुजरात अंबुजा एक्सपोर्ट – 100 करोड़
  • अन्नशा ह्यूमन केयर – 150 करोड़
  • पंप काट डॉट कॉम – 200 करोड़
  • डालमिया सीमेंट – 2500 करोड़
  • प्रथमेश इंडस्ट्री 112 करोड़
  • अल्ट्रा कैब इंडिया – 110 करोड़
  • चैल्सी मिल – 100 करोड़
  • एफसीआई अरावली -605 करोड़
  • एनएमडीसी – 1042 करोड़
  • डेलमोर एडं ऑयल – 700 करोड़
  • हिमालयन डिसटिलेरिज -150 करोड़
  • मैनकाइंड फार्मा – 126.29 करोड़
  • एयूएस हेल्थ ग्लोबल – 400 करोड़
  • अग्रवाल एंड कंपनी – 104 करोड़
  • हेल्थ बायोटेक – 100 करोड़
  • गुप्ता बिल्डर एंड प्रमोटर – 900 करोड़
  • वोल्टस एनर्जी – 100 करोड़

Related posts

मुख्यमंत्री ने किया स्किल रजिस्टर का शुभारम्भ,जानिए किस तरह लिया जा सकता है इसका लाभ

Viral Bharat

केजरीवाल कर रहे राजनीतिक अय्याशी -दिल्ली में ठंड से बर्बाद हुए गरीब.

Viral Bharat

इजराइल की आर्मी में ट्रेनिंग में मॉडल !

Viral Bharat