Uncategorized राजनीती राज्यों से वायरल

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रदेश में विटामिन ‘ए’ और ‘डी’ युक्त फोर्टिफाइड दूध का शुभारम्भ किया,जानिए इसके फायदे

मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर जी ने आज शिमला में दूध प्रसंघ के विटामिन ‘ए’ और ‘डी’ से युक्त फोर्टिफाइड दूध ‘हिम गौरी’ का शुभारम्भ किया।इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर जी ने इस दौरान अपने संबोधन में कहा कि लोगों को पोषक तत्व प्रदान करने के लिए फोर्टिफाइड दूध का इस्तेमाल विश्व भर में किया जाता है। जो हम सामान्य दूध इस्तमाल करते हैं उसकी तुलना में इस दूध के अनेक लाभ हैं। यह गाय का ऐसा दूध है जिसमें अतिरिक्त विटामिन और खनिज होते हैं और यह स्वास्थ्य के लिए बहुत गुणकारी है। यद्यपि आज बाजार में उपलब्ध ज्यादातर खाद्य पदार्थों की पैकिंग पर पोषक तत्वों की जानकारी प्रदान की जाती है, लेकिन इसके बावजूद इस दिशा में अभी काफी कुछ किया जाना बाकी है। उन्होंने कहा कि दूध का इस्तेमाल मुख्यतः बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए किया जाता है, इसलिए यह आवश्यक हो जाता है कि इसमें सभी जरूरी सामग्री हो।

उन्होंने कहा कि यह प्रशंसनीय है कि मिल्कफेड प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों से प्रतिदिन 1.40 लाख लीटर दूध एकत्र कर रहा है। डेयरी विकास प्रदेश की ग्रामीण आर्थिकी को सुदृढ़ करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। यह क्षेत्र वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुना करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है, जो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच भी है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सम्भवतः देश का पहला राज्य है, जो अपने उपभोक्ताओं को फोर्टिफाइड गेहॅंू का आटा उपलब्ध करवा रहा है।

जय राम ठाकुर जी ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा प्रायोजित परियोजना के अन्तर्गत मिल्कफेड वर्ष 2020 में मण्डी और शिमला जिला के दत्तनगर में दो नए दूध प्रसंस्करण प्लांट स्थापित करने जा रहा है। इससे प्लांट की क्षमता दोगुनी हो जाएगी।
ग्रामीण विकास, पंचायती राज एवं पशुपालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने इस अवसर पर मिल्कफेड की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि आज मिल्कफेड विभिन्न उत्पादों के लिए एक विश्वसनीय ब्रांड बन कर उभरा है। राज्य सरकार ने पहाड़ी गाय के पोषक तत्वों से भरपूर दूध को ‘हिम गौरी’ फोर्टिफाइड दूध के रूप में बाजार में उतारा है। राज्य सरकार देसी नस्ल की गायों के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है और पशुपालन विभाग व डेयरी विकास किसानों की आर्थिकी को सुदृढ़ करने मंे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

मिल्कफेड के अध्यक्ष निहाल चन्द शर्मा ने कहा कि मिल्कफेेड प्रतिदिन लगभग 14000 लीटर दूध सैन्य बलों को उपलब्ध करवा रहा है। उन्होंने किसानों से लिए जाने वाले दूध की कीमतों में बढ़ौतरी के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

टाटा ट्रस्ट के वरिष्ठ सलाहकार विवेक अरोड़ा ने कहा कि विटामिन ‘ए’ और ‘डी’ की कमी से बच्चों एवं व्यस्कों में कई गम्भीर बीमारियां हो सकती हैं। देश में 66 करोड़ लोग किसी न किसी विटामिन की कमी से जूझ रहे हैं। उन्होंने दूध, तेल और चावल को फोर्टिफाई करने की दिशा में राज्य सरकार के प्रयासों की सराहना की।नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड की समन्वयक जी. राज ने कहा कि प्रदेश के लोगों को अब फोर्टिफाइड दूध उपलब्ध होगा, जो बड़ी उपलब्धि है।

Related posts

Himachal News – हिमाचल से जुड़ी हुई नही है सोशल मीडिया पर वायरल ये खबर,कृपया इस भ्रामक संदेश को शेयर करने से बचें

Viral Bharat

तीन दिनों में कांगड़ा जिले में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दी करोड़ों की सौगातें,जानिए उन सौगातों के बारे में

Viral Bharat

Himachal News – ज्योतिर्विद मदन गुप्ता का दावा, पहली जुलाई के बाद कोरोना से छुटकारा शताब्दी के अंत में शून्य आया, तो महामारी

Viral Bharat