राजनीती, राज्यों से, वायरल

जयराम सरकार की बहुत अच्छी पहल,गाय का सस्ता पौष्टिक दूध बेचेगी हिमाचल सरकार, यहां जानिए दाम

Viral Bharat / November 29, 2019

हिमाचल की जयराम सरकार लोगों के स्वास्थ्य को लेकर बहुत गंभीर है यही वजह है की जयराम सरकार ने एक से बढ़कर एक स्वास्थ्य से जुडी योजनाएं प्रदेश की जनता के लिए शुरू की हैं। हिमाचल प्रदेश सरकार ने पौष्टिक तत्वों से युक्त गाय का सस्ता दूध बाजार में उतारा है। शिमला में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी ने मिल्कफेड के हिम गौरी दूध की लांचिंग की। हिम गौरी दूध का दाम पंजाब और हरियाणा के दूध से कम है। सरकारी उपक्रम मिल्कफेड 44 रुपये में डबल टोंड, 45 रुपये में टोंड और 49 रुपये प्रति लीटर दाम में स्टैंडर्ड दूध बेचेगी।

पंजाब-हरियाणा से आने वाले अधिकांश दूध के दाम 52 रुपये प्रति लीटर से अधिक हैं। पड़ोसी राज्यों का दूध फोर्टिफाइड भी नहीं है। विटामिन ए और डी युक्त दूध तैयार करने वाला हिमाचल अब देश का 21वां राज्य बन गया है। टाटा ट्रस्ट और राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के सहयोग से जयराम सरकार ने प्र्रदेश के लोगों को कुपोषण से बचाने के लिए यह पहल की है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी ने कहा कि सामान्य दूध की तुलना में इस दूध में अतिरिक्त विटामिन और खनिज होते हैं। उन्होंने कहा कि मिल्कफेड प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों से प्रतिदिन 1.40 लाख लीटर दूध एकत्र कर रहा है। डेयरी विकास प्रदेश की ग्रामीण आर्थिकी को सुदृढ़ करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। यह क्षेत्र वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुना करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

मंडी और शिमला में लगेंगे दो नए प्लांट
हिमाचल देश का पहला ऐसा राज्य है, जो अपने उपभोक्ताओं को फोर्टिफाइड गेहूं का आटा उपलब्ध करवा रहा है। टाटा ट्रस्ट के वरिष्ठ सलाहकार विवेक अरोड़ा ने कहा कि विटामिन ए और डी की कमी से बच्चों एवं व्यस्कों में कई बीमारियां हो सकती हैं। देश में 66 करोड़ लोग किसी न किसी विटामिन की कमी से जूझ रहे हैं।

राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड की समन्वयक गाथा राज ने बताया कि प्रदेश के लोगों को अब फोर्टिफाइड दूध उपलब्ध होगा, जो बड़ी उपलब्धि है।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्रायोजित परियोजना के तहत मिल्कफेड वर्ष 2020 में मंडी और शिमला जिले के दत्तनगर में दो नए दूध प्रसंस्करण प्लांट स्थापित करने जा रहा है।

देसी नस्ल की गाय के संरक्षण को प्रतिबद्ध
पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि सरकार ने पहाड़ी गाय के पोषक तत्वों से भरपूर दूध को हिम गौरी फोर्टिफाइड दूध के रूप में बाजार में उतारा है। सरकार देसी नस्ल की गायों के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है। मिल्कफेड के अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा ने कहा कि प्रतिदिन लगभग 14000 लीटर दूध सैन्य बलों को उपलब्ध करवाया जा रहा है।