राजनीती, राज्यों से, वायरल

SUCCESS STORY 2 : मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में आज हम बात करेंगे सड़क को लेकर आई शिकायत पर कैसे एक फोन से हुआ निवारण शिकायतकर्ता ने किया सीएम का धन्यवाद

Viral Bharat / November 29, 2019

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन जिसे मुख्यमंत्री सेवा संकल्प का नाम दिया गया है आम जनता के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। पहले जब कभी किसी को कोई शिकायत होती थी तो वो बार बार विभागों के चकर काटता था लेकिन उसके बावजूद उसकी सुनवाई नहीं होती थी.पर आपको अब बता दूँ की अब समय बदल चूका है जयराम सरकार में अब सुनवाई भी हो रही है और करवाई भी हो रही है.

JAIRAM THAKUR HD IMAGE के लिए इमेज परिणाम

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से अफसरों अधिकारीयों की जवाब देही तय हुई है यही वजह है की इस हेल्पलाइन के शुरू होने से प्रदेश की जनता को बहुत राहत मिली है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी खुद इस हेल्पलाइन पर नजर बनाये रखते हैं। वैसे तो इस पोर्टल के माध्यम से हम सरकार की हर गतिविधि हर योजना को आप तक पहुँचाने का काम करते रहे हैं जिसमें मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के माध्यम से निवारण की गयी शिकायतों की खबरें भी शामिल रही हैं। पर अब हम एक नई शुरुआत की है जिसमें हर दिन एक Success story मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की आप सभी तक लेकर आ रहे हैं।

आज हम जिस शिकायत के बारे में आपसे बात करेंगे वो शिकायत जिला कांगड़ा से की गयी थी। शिकायतकर्ता व्यक्ति ने खराब रास्ते को लेकर मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में ये शिकायत की थी।शिकायत कर्ता अश्वनी जी का बोलना था की उनके वहां पर सड़क की हालत बहुत खराब है उसकी मरम्त की जरूरत है. शिकायत कर्ता की शिकायत को मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में कार्यरत कर्मचारी पोर्टल में दर्ज करता है और शिकायकर्ता को उनका कंप्लेंट नंबर दे देता है।

ये भी पढ़े : SUCCESS STORY 1:-मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में आज हम बात करेंगे के कांगड़ा से आई शिकायत की,कैसे एक फोन से हुआ शिकायत का निवारण

उसके बाद शिकायत की निवारण का कार्य शुरू होता है। मामला PWD विभाग के पास आता है। इस वजह से तुरंत शिकायत को निवारण के लिए उस विभाग के पास भेज दिया जाता है।

आपकी जानकारी के लिए हम बता दे की PWD विभाग के पास जब शिकायत कर्ता की शिकायत पहुँचती है तो तुरंत विभाग द्वारा उस जगह का निरिक्ष्ण किया जाता है।बाद में सड़क खराब पाए जाने पर उसको दुरस्त करने का कार्य शुरू किया जा चूका है. जिस वजह से शिकायकर्ता की शिकायत का एक तय समय में निवारण कर दिया जाता है। मुख्यमंत्री हेल्पलाइन किस तरह से आम जनता की शिकायतों का निवारण कर रही है ये इस खबर से भी एक बार साफ़ नजर आ रहा है। छोटी से छोटी शिकायत हो या बड़ी शिकायत हो मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में आप कर सकते हैं। फर्क सिर्फ इतना है शिकायत जटिल हो तो उसके निवारण में थोड़ा समय ज्यादा लगता है लेकिन निवारण जरूर होता है।

शिकायकर्ता को बाद में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में कार्यकर्त कर्मचारी कॉल करते हैं और पूछते हैं की आप शिकायत के निवारण से संतुष्ट हैं। तो शिकायत कर्ता अश्वनी जी का साफ़ शब्दों में बोलना था की इतनी जल्दी मेरी शिकायत पर एक्शन लिया गया है मुझे उन विभागों की तरफ से कॉल भी आये। में मुख्यमंत्री जी का धन्यवाद करता हूँ। घर बैठे बैठे शिकायतों का होता निवारण।