राजनीती राज्यों से वायरल

Success Story 5 : सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत से बंद हुआ पानी का रिसाव,शिकायत करने के तुरंत बाद हुई करवाई

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री सेवा संकल्प 1100 नंबर हेल्पलाइन पर शिकायत करने के तुरंत बाद उस पर कार्रवाई हो रही है।जो शिकायतें थोड़ी जटिल होती हैं उनमें ही थोड़ा समय अधिक लगता है लेकिन फिर भी एक तय समय में उनका निवारण किया जाता है. शिमला के रामबाजार स्थित एक चाय की दुकान में पिछले महीने लोगों के मकान से पानी रिवास हो रहा था। उक्त व्यक्ति ने 1100 नंबर पर शिकायत की थी और नगर निगम प्रशासन की ओर से कार्रवाई के लिए दो कर्मचारियों को भेजा गया। बाद में शिकायतकर्ता को नगर निगम के अधिकारियों का फोन आया और पूछा कि काम से संतुष्ट हैं कि नहीं? शिकायतकर्ता ने कहा संतुष्ट नहीं हूं।

संबंधित इमेज

उसके तुरंत बाद नगर निगम के अधिकारी स्वयं मौके पर पहुंचे और कर्मचारियों को भी साथ लेकर आए।उसके बाद रिसाव की वजह का प्रॉपर तरिके से पता लगाया गया और उसके बाद रिसाव को बंद करने के लिए कार्य किया गया. उसके बाद चाय की दुकान में पानी का रिसाव भी बंद हो गया। ऐसे में जाहिर है कि मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन पर शिकायत करने के बाद संबंधित विभाग की ओर से त्वरित कार्रवाई हो रही है। प्रदेश सरकार ने सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों की भी जिम्मेदारी तय की है। वहीं, दूसरी तरफ अब आई शिकायतों पर कितना अमल हुआ है, इसकी समीक्षा की जाएगी। हालांकि बीते 17 सितंबर को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस हेल्पलाइन पर मिली शिकायतों से लेकर समस्याओं का निपटारे की समीक्षा की है, लेकिन अब दो माह पूरे होने पर उन्होंने आईटी विभाग से स्टेट्स रिपोर्ट भी मांगी है।

हो सकता है कि शीत सत्र से पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी आईटी विभाग के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि बताया जा रहा है उसी बैठक में मुख्यमंत्री जी पूरी रिपोर्ट देखेंगे और पूछेंगे कि अब तक कितनी शिकायतें आई और कितनों का निपटारा किया गया। ऐसे में लंबित समस्याओं का निपटारा न कर पाने वाले अफसरों पर भी गाज गिर सकती है। कारण यह है कि सरकार ने सेवा संकल्प के लिए संबंधित विभागों के अफसरों की जिम्मेदारी भी तय की है। जयराम सरकार की मुख्यमंत्री सेवा संकल्प 1100 हेल्पलाइन को शुरुआत में शानदार रिस्पांस मिल रहा है। जन शिकायतों को निपटाने का ये सरल और त्वरित माध्यम लोगों को इतना पसंद आ रहा है कि महज दो माह पांच दिन में ही एक लाख 17 हजार 886 कॉल्स आ चुकी है।

Related posts

Himachal News-कर्ज को लेकर बार-बार सवाल उठाने वाली कांग्रेस अपना अतीत भूल जाती है जिसने विरासत में प्रदेश को सबसे ज्यादा कर्ज दिया

Viral Bharat

क्या 21 दिन से आगे भी बढ़ सकती है “LOCKDOWN” की मियाद? सरकार की तैयारी से लग रहे कयास

Viral Bharat

हिमाचल में हो रहे हादसों पर रोक लगाने के लिए प्रदेश पुलिस हेडक्वाटर शिमला से निर्देश जारी,गाड़ी चलाते समय सीट बेल्ट पहनना अनिवार्य

Viral Bharat