राजनीती राज्यों से वायरल

जयराम सरकार ने हिमाचल में की 200 नए डॉक्टर की भर्ती ,अब छोटे अस्पतालों में नहीं होगी दिक्कत

हिमाचल सरकार ने प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों में 200 नए मेडिकल अधिकारियों (एमबीबीएस) की तैनाती की है। बुधवार को सरकार ने इन डॉक्टरों की नियुक्ति के आदेश जारी कर तीन दिन में ड्यूटी ज्वाइन करने के आदेश दिए हैं। हर जिले में मरीजों की संख्या के हिसाब से डॉक्टर दिए गए हैं। इनकी तैनाती से प्रदेश में काफी हद तक विशेषज्ञों की कमी दूर होगी और लोगों को घर के नजदीक बेहतर उपचार मिलेगा।

इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (आईजीएमसी), टांडा और नाहन मेडिकल कालेजों में भी इन डॉक्टरों की तैनाती की गई है। स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने धर्मशाला शीतकालीन सत्र में 200 डॉक्टरों की तैनाती की बात कही थी। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार हर स्वास्थ्य केंद्र में एक-एक डॉक्टर की तैनाती की जा रही है।

इसके अलावा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में 5 से 6 डॉक्टरों की तैनाती की जा रही है ताकि मरीजों को उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज न आना पड़े। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने कहा कि इनकी तैनाती से प्रदेश में काफी हद तक डॉक्टरों की कमी दूर हो गई है। मेडिकल कॉलेजों में भी डाक्टरों का स्टाफ पूरा हो गया है।

इन एमबीबीएस डॉक्टरों का मानदेय 26250 रुपये प्रतिमाह रहेगा। इसके अलावा स्वास्थ्य संस्थान के 8 अप्रैल 2013 और 28 जनवरी 2019 को जारी पत्र में तय वित्तीय लाभ भी दिए जाएंगे।

हर जिले को नए डॉक्टर दिए गए हैं। डाक्टरों की कमी दूर की गई है। स्वास्थ्य संस्थान में पैरा मेडिकल स्टाफ को भी भरा जा रहा है। जहां डाक्टरों की तैनाती की गई है, उन्हें तय स्थान पर ही ज्वाइनिंग देनी होगी। – विपिन सिंह परमार, स्वास्थ्य मंत्री

news source

Related posts

मुख्यमंत्री जयराम ने राज्यपाल को कोविड-19 से निपटने के लिए की गई पहलों से अवगत करवाया

Viral Bharat

हिमाचल के साढ़े अठारह लाख राशनकार्ड उपभोक्ताओं के लिए जय राम सरकार का बड़ा तौफा

Viral Bharat

नोटबन्दी का असर : दाऊद के सहयोगी हवाला ऑपरेटर जावेद खनानी ने की आत्महत्या !

Viral Bharat