राजनीती राज्यों से वायरल

आठ जिलों में आयोजित जन मंच के दौरान 1200 से अधिक शिकायतें व मांगें प्रस्तुत,अधिकांश शिकायतों का मौके पर हुआ निपटारा

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी का जनमंच कार्यक्रम प्रदेश की जनता के लिए वरदान साबित हो रहा है।आज 8 जिलों में जन मंच आयोजित किया गया जिनमें 1218 मांगें व शिकायतें प्राप्त हुई इनमें से अधिकांश का मौके पर ही निपटारा किया गया। मंडी जिले में 16 फरवरी जबकि कांगड़ा जिले में 19 फरवरी को जन मंच आयोजित किए जाएंगे।

आज के जन मंच से पूर्व प्रदेशभर में 157 जनमंच आयोजित कर 1330 ग्राम पंचायतों के ग्रामीणों को लाभ पहुंचाया गया है। इस अवधि में 46,801 शिकायतें व मांग पत्र प्राप्त हुए जिनमें से 42,730 का समाधान किया जा चुका है। जनमंच के माध्यम से प्रदेश भर में आठ हजार परिवारों को बेटी है अनमोल योजना का लाभ प्रदान किया गया है। इसके अतिरिक्त 6,74,013 डिजिटल राशन कार्ड आवंटित किए गए और 73,501 परिवारों को हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना का लाभ प्रदान किया गया। इस दौरान 1,98,331 जनधन खाते खोले गए। जनमंच में 51,186 गर्भवती महिलाओं का पंजीकरण एवं टीकाकरण, 2,42,756 पात्र व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन, 70,337 लोगों का सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण, 8,363 इंतकाल तथा 46,038 विभिन्न तरह के प्रमाण-पत्र जारी किए गए।

ऊना जिले के हरोली विधानसभा क्षेत्र के पालकवाह में आयोजित जनमंच की अध्यक्षता करते हुए जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि अब तक आयोजित जन मंच में प्राप्त शिकायतों व मांगों में से 90 प्रतिशत का निपटारा किया जा चुका है।

जिला सिरमौर के शिलाई विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत अश्याडी में जन मंच की अध्यक्षता शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्धाज ने की। कार्यक्रम के दौरान 133 मांगें और समस्याएं प्रस्तुत की गईं जिनमें से अधिकतर समस्याओं का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार ने पिछले दो वर्षों में 7300 अध्यापक भर्ती किए हैं।

सुरेश भारद्वाज ने इस अवसर पर बेटी है अनमोल योजना के तहत बी.पी.एल परिवारों की 10 बालिकाओं के अभिभावकों को सहायता राशि वितरित की। स्वास्थ्य विभाग के शिविर में 350 तथा आयुर्वेद विभाग के स्वास्थ्य शिविर में 170 लोगों ने अपने स्वास्थ्य की जांच करवाई। इस अवसर पर 145 विभिन्न प्रकार के प्रमाण-पत्र बनाए गए।

सोलन जिला में नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र के बघेरी में जनमंच आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता शहरी विकासएवं आवास मंत्री सरवीण चैधरी ने की। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि जनमंच में मांगों के स्थान पर शिकायतें प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि मांगे पूरी करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा अनेक माध्यम स्थापित किए गए हैं।सरवीण चैधरी ने इस अवसर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की टीबी मुक्त हिमाचल ऐप का शुभारम्भ भी किया।जन मंच कुल 185 मांगें व शिकायतें प्रस्तुत की गईं।

कृषि और जनजातीय विकास मंत्री डाॅ. राम लाल मारकंडा ने कुल्लू उपमण्डल के शाट में जनमंच की अध्यक्षता करते हुए कहा कि मणिकर्ण घाटी में शाट सब्जी मंडी पर चार करोड़ 55 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे तथा इसमें 24 दुकानें बनाई जाएंगी। इससे घाटी के बागवान अपनी फसलों को घर-द्वार पर ही अच्छे दामों पर बेच सकेंगे।जनमंच में 101 शिकायतें एवं मांगें प्रस्तु की गई जिनमें से 78 का मौके पर निपटारा किया गया।

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने बिलासपुर जिले के घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत भराड़ी में जनमंच की अध्यक्षता की। उन्होंने जानकारी दी कि 14वें वित्त आयोग के अंतर्गत प्रदेश की पंचायतों को 31 मार्च 2020 तक धनराशि खर्च करने के निर्देश दिए गए थे, जिसमें से अधिकतम धन व्यय किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि 15वें वित्तायोग की ग्रांट हिमाचल प्रदेश को स्वीकृत हो चुकी है।जनमंच के दौरान लोगों को आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड,एचआरटीसी ग्रीन कार्ड, स्मार्ट कार्ड, आय प्रमाण पत्र, परिवार नकल, जाति प्रमाण पत्र और मृदा स्वास्थ्य कार्ड आदि जारी किए गए।

शिमला जिले में जनमंच का आयोजन रामपुर बुशहर क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत झाकड़ी में आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता परिवहन एवं वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने की। कार्यक्रम के दौरान 58 जन शिकायतें प्राप्त हुई जिनमें से 42 का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। उन्होंने ‘बेटी है अनमोल योजना’ के तहत 10 बालिकाओं को एफडी प्रदान की। इस दौरान निःशुल्क चिकित्सा परामर्श शिविर लगाया गया और विकलांगता प्रमाण-पत्र, राजस्व संबंधी दस्तावेज स्थानीय लोगों को उपलब्ध करवाए गए।

मुख्य सचेतक एवं जनमंच के प्रदेश समन्वयक नरेंद्र बरागटा की अध्यक्षता में हमीरपुर जिले के बड़सर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत टिप्पर के अम्बेहड़ी में जनमंच का आयोजन किया गया। जनमंच में कुल 118 शिकायतें व 201 मांगपत्र प्राप्त हुए जिनमें से लगभग 85 प्रतिशत शिकायतों का निराकरण मौके पर ही किया गया। श्री बरागटा ने कहा कि मुख्य सचिव स्तर पर भी निरंतर जन मंच की निगरानी की जा रही है। जिला स्तर पर भी प्रदेश समन्वयक की अध्यक्षता में जनमंच की समीक्षा की जा रही है और शीघ्र ही हमीरपुर जिला में भी ऐसी ही समीक्षा बैठक का आयोजन किया जाएगा।

Related posts

ना कोई घोटाला ना,कोई मुद्दा करे तो क्या करे कांग्रेस इसलिए आधारहीन मुद्दों को लेकर हिमाचल की जनता को गुमराह करती कांग्रेस

Viral Bharat

आज GSSS Ghanahatti के छात्रों ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन का भ्रमण किया,इस दौरान उन्होंने जाना किस तरह से ये हेल्पलाइन कार्य करती है।

Viral Bharat

हिमकेयर कार्ड बनवाने और नवीनीकरण की अंतिम तिथि 15 जुलाई, 2020 तक बढ़ी

Viral Bharat