राजनीती राज्यों से

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सिराज विधानसभा क्षेत्र के सरोआ में जन मंच की अध्यक्षता की,मौके पर किया शिकायतों का निपटारा

जनता के लिए शुरू किया गया लोकप्रिय कार्यक्रम जनमंच आज सिराज विधानसभा क्षेत्र के सरोआ में आयोजित हुआ। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जनमंच की अध्यक्षता की। जन मंच लोगों की समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया अनूठा कार्यक्रम है। इस जन मंच में 80 शिकायतें प्राप्त हुईं और उनमें से लगभग सभी का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया है।

Image may contain: 6 people, people standing and outdoor

पिछले दो वर्षों में राज्य में 181 जन मंच आयोजित किए गए, जिनमें हजारों शिकायतों का निपटारा कर दिया गया है। इन शिकायतों के समाधान के लिए लोगों को बार-बार सरकारी कार्यालयों के चक्कर लगाने पड़ते थे। यह नई योजना लोगों के लिए न केवल वरदान साबित हुई है बल्कि इससे सरकारी कार्यालयों में अपने कार्यों के लिए आने वाले लोगों की संख्या में भी कमी आई है।

Image may contain: 8 people

प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित जन मंचों में 47583 शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें से 43158 शिकायतों का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया है। जन मंच के अतिरिक्त प्रदेश सरकार ने समस्याओं के शीघ्र समाधान के लिए मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाईन-1100 शुरू की है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश इस सेवा को शुरू करने वाला देश का पांचवा राज्य है। आज तक इस हेल्पलाईन के माध्यम से 255103 काॅल प्राप्त हुईं, जिनमें से 60473 शिकायतें थी। इनमें से 53211 शिकायतों का निपटारा कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित जन मंच के माध्यम से 673961 डिजिटल राशन कार्ड और 208179 किसान क्रेडिट कार्ड बांटे गए तथा जन धन योजना के अन्तर्गत 198082 लोग लाभान्वित हुए।

मुख्यमंत्री ने आगे अपनी बात में कहा कि इस क्षेत्र की 8 पंचायतों की पेयजल समस्या के स्थाई समाधान के लिए जल जीवन मिशन के तहत 37.50 करोड़ रुपये की विशाल पेयजल आपूर्ति योजना शुरू की जा रही है। हम आपको बता दें कि दूसरे जिलों की तरह सिराज विधानसभा क्षेत्र की 19 पंचायतों के लिए जल जीवन मिशन के तहत 115.13 करोड़ रुपये की लागत से एक अन्य पेयजल योजना भी शुरू की जा रही है। राज्य सरकार उन क्षेत्रों के विकास पर विशेष ध्यान दे रही है, जिनके विकास को किसी कारणवश नजरअंदाज कर दिया गया था।

Image may contain: 13 people

केन्द्र सरकार ने देशवासियों को प्रति परिवार 5 लाख रुपये का चिकित्सा बीमा प्रदान करने के लिए आयुष्मान भारत योजना आरम्भ की है। इस योजना में यह सुनिश्चित किया गया है कि पैसे की कमी की वजह से गरीब रोगी विशेषज्ञ चिकित्सा सेवाओं से वंचित न रह जाएं। इस योजना से देश के 50 करोड़ तथा हिमाचल प्रदेश के 22 लाख लोग लाभान्वित हो रहे हैं।आयुष्मान भारत योजना से वंचित परिवारों के लिए राज्य सरकार ने हिमकेयर योजना आरम्भ की है। इसके अतिरिक्त गम्भीर बिमारी से पीड़ित व्यक्तियों के परिवारों को राहत देने के लिए राज्य सरकार ने सहारा योजना आरम्भ की है। इस योजना के तहत मरीजों की बेहतर देखभाल के लिए प्रतिमाह 2000 रुपये प्रदान किए जा रहे हैं।

गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत राज्य के प्रत्येक परिवार को घरेलू गैस कनेक्शन प्रदान करना महिला सशक्तिकरण की तरफ एक बड़ा कदम है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश आज देश का पहला धुंआ रहित राज्य बन गया है, जिसमें हर घर में गैस सुविधा है।

मुख्यमंत्री ने जनमंच के इस अवसर पर जंजैहली-थुनाग-मुद्रिका बस को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जवजात कन्याओं को बधाई पत्र प्रदान किए। उन्होंने बेटी है अनमोल योजना के तहत प्रत्येक नवजात कन्याओं के माता-पिता को 12 हजार रुपये की एफ.डी. प्रदान की। इस राशि को वर्तमान राज्य सरकार ने 10 हजार रुपये से बढ़ाकर 12 हजार रुपये किया है। उन्होंने इस अवसर पर नवजात कन्याओं का अन्नप्राशन समारोह भी करवाया।

Related posts

आखिर कब ‘बड़े’ होंगे विक्रमादित्य सिंह ? नाटी हमारी संस्कृति है हमारी पहचान है भाजपा का विरोध करते -करते अब संस्कृति के विरोधी बन गए !

Viral Bharat

VIDEO : कोंग्रेसी दिग्गज नेता ने वोटों के लालच में दे दिया ऐसा बयान मचा हाहाकार एक बार फिर कांग्रेस का गंदा चेहरा आया देश के सामने

Viral Bharat

अच्छी पहल : हैंडपंप लगाएं, हिमाचल की जय राम सरकार उठाएगी इतने फीसदी खर्च अधिसूचना को जय राम सरकार ने जारी किया

Viral Bharat