राजनीती राज्यों से वायरल

Himachal News – इस घटना से अंदाजा लगाया जा सकता है कोरोना को लेकर जयराम की सरकार की तैयारी है पुख्ता

जयराम सरकार की तैयारियों पर सवाल उठाने वाली कांग्रेस सरकार को इस खबर से जरूर जवाब मिल जाएगा। बाहरी देशों में घूमकर जिला शिमला आए 107 लोगों का कोरोन टाइम (सेल्फ आइसोलेशन) पूरा हो गया है। सभी का 28 दिन का समय पूरा हो गया है। इनमें कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी तरह के लक्षण नहीं पाए गए हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी शिमला डॉ. जितेंद्र चौहान ने इसकी पुष्टि की है। कोरोना वायरस को महामारी घोषित करने के बाद लोगों में भय का माहौल था। इनमें जिले के मशोबरा ब्लॉक, चिड़गांव और कोटखाई से संबंध रखने वाले लोग भी शामिल थे। इसके अलावा कुछ समय बाद स्वास्थ्य विभाग के पास अन्य लोगों की जानकारी आने के बाद इन्हें निगरानी में रखा गया था। इनमें कुछ जनवरी और कुछ फरवरी के बीच लौटे थे। इनके स्वास्थ्य में किसी भी तरह के लक्षण नहीं हैं। चिकित्सकों का कहना है कि लोग एहतियात के तौर पर हाथों को साबुन से धोते रहें।

हिमाचल सरकार ने कोरोना वायरस की स्थिति से निपटने के लिए ठोस कदम उठा लिए हैं। सरकार ने उचित दिशा-निर्देश जारी करने के साथ-साथ महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए हैं। इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने राज्य के आम नागरिकों से इस वायरस की स्थिति से निपटने के लिए सुझाव आमंत्रित किए हैं। सुझाव माईगव पोर्टल पर भेजने होंगे, सुझाव भेजने की अंतिम तिथि 05 अप्रैल, 2020 निर्धारित की गई है। विशेष है कि कोरोना वायरस से बचाव के दृष्टिगत राज्य सरकार ने हिमाचल प्रदेश में सभी सामाजिक, सांस्कृतिक, खेल, राजनीतिक, धार्मिक, अकादमिक, बड़े स्तर पर पारिवारिक समाराहों और किसी भी उद्देश्य से ज्यादा संख्या में लोगों की भीड़ एकत्र होने पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है।

यह प्रतिबंध हिमाचल प्रदेश महामारी रोग (कोविड-19) नियम, 2020 के अंतर्गत लगाया गया है, ताकि कोरोना वायरस से रोकथाम हो सके और इसका संक्रमण न फैले। यह प्रतिबंध आगामी आदेशों तक जारी रहेगा। कोरोना वायरस से बचाव की दृष्टि से प्रदेशभर में सरकारी तथा निजी बसों में डिटॉल और हैंड सेनिटाइजर की सर्पे की जा रही है। इसके साथ ही आगामी 31 मार्च तक शिक्षण संस्थानों को बंद किया गया है। हालांकि शिक्षा संस्थानों में परीक्षाएं जारी रहेंगी। वहीं कार्यालयों में बायोमिट्रिक मशीनों पर हाजिरी लगाने पर रोक लगाई है, अस्पतालों में भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

जवाली में आईसोलेशन वार्ड में रखे हैं विदेश से आए लोग
कोरोना वायरस को लेकर सरकार की एडवाइजरी के अनुसार बाहरी देशों से आ चुके लोगों को चिह्नित कर सिविल अस्पताल जवाली के आईसोलेशन वार्ड में रखा जा रहा है। एसडीएम सलीम आजम ने कहा कि उपमंडल में अभी तक बाहरी देशों से आने वाले 9 लोगों को ट्रेस किया गया है। कहा कि इन्हें 1, 2, 3 कैटेगिरी में बांटा गया है।

पहली कैटेगिरी में 60 वर्ष तक के लोग हैं। 60 वर्ष से ऊपर के लोग दूसरी और कोरोना वायरस के लक्षणों वाले लोग तीसरी कैटेगिरी में आते हैं। दूसरी कैटेगिरी में नेपाल से आई 65 वर्षीय महिला उत्तमी देवी को ट्रेस किया गया है। इसे एंबुलेंस से कांगड़ा में आईसोलेशन वार्ड में भेजा है। अभी जवाली में कोरोना का कोई मामला सामने नहीं आया है।

Related posts

लैब में हुए धमाके में घायल बच्‍चों का सरकार करवाएगी इलाज,जयराम सरकार ने लिया संज्ञान, शिक्षा मंत्री ने पीजीआइ निदेशक से की बात

Viral Bharat

अब देखते हैं कोर्ट की प्रतिक्रिया भड़काऊ भाषण को लेकर सोनिया-राहुल,स्वरा भास्कर समेत आधा दर्जन नेताओं पर एफआईआर दर्ज कराने की याचिका

Viral Bharat

मोदी सरकार का बड़ा तौफा,अब ड्राइविंग के समय कोई पुलिसवाला ओरिजिनल डीएल या आरसी दिखाने को नहीं कहेगा बस करें इतना .

Viral Bharat