रोचक जानकारी वायरल व्यक्तित्व

ज्योतिष की अविश्वसनीय गणना : करोना वायरस जैसी परिस्थितियों पे ज्योतिषाचार्य सतीश शर्मा की नवंबर 23, 2019 वाली भविष्यवाणी 100 % सही साबित हुई !

Astrologer Satish Sharma Predictions on Corona Virus, Satish Sharma Astro Predictions , Satish Sharma Himachal Astrologer

मोदी, राहुल गाँधी, राम रहीम , आसा राम पे सटीक ज्योतिष भविष्यवाणी करने वाले ज्योतिषिचर्या का एक और ज्योतिष धमाका, नवंबर 23, 2019 को कर दी थी इस विकट परिस्थिति की ज्योतिष भविष्यवाणी ! ज्योतिषाचार्य सतीश शर्मा अपनी ज्योतिष गणना का लोहा बहुत बार मनवा चुके हैं, प्रधानमंत्री मोदी के मई 2019 में दुबारा सत्तासीन होने से लेकर आसा राम और राम रहीम के आजीवन कारावास पर अदालत के फरमान और समय से पहले सटीक भविष्यवाणियां करने पे सतीश शर्मा अपना लोहा मनवा चुके हैं !

ज्योतषाचार्य सतीश शर्मा भारत में हिमाचल प्रदेश से सम्न्बधित हैं और समय समय पर अपनी सटीक भविष्यवाणियों के कारण सुर्खियां बटोर चर्चा में रहते हैं ! आज जो विकट परिस्थितयां पूरा विश्व देख रहा है, उसका पूर्व अलोकन सतीश शर्मा द्वारा की गई भविष्यवाणी में सटीक तौर पे मिलता है ! उनके द्वारा विश्लेषित बातों को पूरा अंत तक पढ़ने पे लगभग शत प्रतिशत रूप से ये विश्वास पक्का होता है की ज्योतिष एक सम्पूर्ण विज्ञान है और उसको मात्र हल्के में लेना बहुत अपरिपक्व विचार है !

Satish Sharma Astrologer, Satish Sharma Himachal Astrologer
Predictions by Astrologer Sharma from Himachal

शनि और गुरु एक साथ युति पर धनु राशि मे.मेदिनी ज्योतिष में शनि को जनता का कारक ग्रह माना जाता है तो गुरु को वैचारिक परिवर्तनों और समाज की धन-सम्पदा से जोड़कर देखा जाता है। शनि एक राशि में ढाई वर्ष तक रहते हैं तो गुरु लगभग एक वर्ष तक, इन दोनों बड़े ग्रहों की युति या परस्पर आमने-सामने की राशि में आने से बड़े सामाजिक और आर्थिक बदलाव देखे जाते हैं जो इतिहास रचने वाले हो सकते हैं। 5 नवंबर को जब गुरु वृश्चिक राशि को छोड़कर सुबह 5 बजकर 20 मिनट पर धनु राशि में प्रवेश करेंगे तो वहां पहले से विराजमान शनि और केतु से उनकी युति होगी।गुरु-शनि धनु राशि युति 22 मई, 1960 को ग्रेट चिली में 9।5 तीव्रता का भूकंप आया। भूकंप की तीव्रता बहुत अधिक थी, इसलिए इससे होने वाली हानि भी बड़ी थी। भूकंप के फलस्वरुप भूस्खलन और सुनामी लहरों के कारण 25 मीटर ऊँची लहरें उठी और 6000 से अधिक लोग मारे गए। इस समय गुरु-शनि की युति धनु राशि में हो रही थी।

Astrologer Satish Sharma , Satish Sharma on Sonia Gandhi, Astro predictions on Sonia Gandhi

29 फरवरी 1930 को मोरक्को में बड़ा भूकंप आया, इससे बहुत तबाही हुई और लगभग 15000 लोग मारे गए।उपरोक्त विवेचन और उदाहरण यह स्पष्ट करते हैं कि जब भी गोचर में शनि और गुरु आपने सामने आते हैं या शनि गुरु की युति किसी राशि में होती है तो वह अवधि प्राकृतिक आपदाओं के आमंत्रण का कारण बनती हैं, जिसका परिणाम मानव जाति को भारी विनास के रुप में झेलना पड़ता है। वर्तमान में गुरु 29 मार्च 2019 से शनि के साथ धनु राशि में गोचर कर रहे थे। इस अवधि में आने वाली प्राकृतिक आपदा फोनी चक्रवात तूफान के रुप में देखा गया। इसने भारत के समुद्री तटों पर भारी तबाही मचाई। 29 मार्च 2019 को हुई इस युति का असर 31 मार्च को ही देखने में आ गया। 31 मार्च को सीरिया के हासाका इलाके में भारी बारिश और बाढ़ की स्थिति बनी जिससे 45,000 लोग प्रभावित हुए हैं। 23 अप्रैल को ट्रॉपिकल साइक्लोन केनेथ ने मेडागास्कर के उत्तर, मोजाम्बिक चैनल के उत्तर, और अल्दाबरा एटोल के पूर्व में तबाही मचाई। इस चक्रवात ने 747,000 से अधिक लोग प्रभावित हुए।

फोनी नाम का उष्णकटिबंधीय चक्रवात बांग्लादेश और भारत को प्रभावित कर गया। इससे भारत के कई राज्य भी प्रभावित हुए, और इस चक्रवात से होने वाली तबाही का हिस्सा बनें। 24 जनवरी 2020 तक, जब तक शनि और गुरु एक ही राशि में रहेंगे, तब तक की समयावधि प्राकृतिक विनाश की बड़ी वजह बन सकती है। 07 मई 2019 से लेकर 22 जून 2019 के मध्य समय में मंगल भी इस युति संबंध पर अपनी दॄष्टि से प्रभावित कर बड़े विनाश की वजह बन सकती है। इस अवधि में राहु-मंगल साथ साथ होंगे ऐसे में आग से जुड़ी आपदाएं, बड़े पैमाने पर अग्नि से जान-माल की हानि होने और जगह जगह आग लगने के योग बनते है. यह स्थिति २२ जून तक रह सकती है. सावधानी बनाए रखना, श्रेयस्कर रहेगा।

मार्च 30, 2020 से लेकर 29 जून 2020 और 19 नवम्बर 2020 से लेकर 05 अप्रैल 2021 के मध्य इन गुरु-शनि की युति मकर राशि में रहेगी, गुरु क्योंकि धन, आर्थिक स्थिति के कारक ग्रह है और शनि कष्ट, आपदाओं और काल के कारक ग्रह हैं, इस स्थिति में मकर राशि में दोनों का एक साथ होना प्राकृतिक आपदाओं के अतिरिक्त आर्थिक बाजार में रिकार्ड गिरावट जिसे वैश्विक रुप से आर्थिक आपदा का नाम दिया जा सकता है. इस प्रकार की आपदाओं के भयंकर रुप में आने का सूचक बन रहा है। इस समय में विश्व भर में बड़े पैमाने पर वित्तीय संकट, आर्थिक गिरावट और संसेक्स के रिकार्ड स्तर से गिरने के प्रबल योग बना रहा है। ऐसे में धन निवेश से बचना लाभकारी रहेगा। इससे पूर्व भी जब गुरु शनि मकर राशि में एक साथ आए थे तो कुछ इसी तरह की स्थिति देखने में आई थी।

सतीश शर्मा जी की व्यक्तिगत ID का लिंक  – https://www.facebook.com/satish.sharma.1481

Satish Sharma Himachal Astrologer
Prediction on Modi By Astrologer Satish Sharma

 

Related posts

जयराम सरकार विकास कार्यों की गुणवत्ता को लेकर हुई सख्त,विकास कार्यो में हुई अब जरा भी गड़बड़ी तो बच नहीं पाओगे

Viral Bharat

पाकिस्तान की घटिया हरकत PAKISTAN सेना ने भारत को हराने के लिए न्यूजीलैंड को दी बधाई, कहा- यह सरप्राइज है

Viral Bharat

सेक्युलरिज़्म के नाम पे बहुसंख्यक हिन्दू को परेशान किया गया..

Viral Bharat