राजनीती राज्यों से वायरल

Himachal News – जिला कांगड़ा में इन दोनों अफसरों की जोड़ी में,अब पूरा कांगड़ा कोरोना जैसी माहमारी में भी खुद को समझ रहा है सुरक्षित

हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के दो अफसर इस समय कांगड़ा की जनता के लिए किसी हीरो से कम नहीं हैं। ऐसा नहीं है की ये दोनों अफसर जिला कांगड़ा के लोगों की नजर में ही हीरों हैं पुरे प्रदेश में इनकी कार्यशैली की चर्चा है। ये अफसर असल हक़ीकत में जनता के असली नौकर हैं।कोरोना महामारी के इस तांडव के बीच दोनों ही अफसरों ने जनता के दिलो-दिमाग में गज़ब की छाप छोड़ दी है।ये दोनों अफसर हैं पहले डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति,और दूसरे एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन।

कांगड़ा SP की सोशल मीडिया पर सक्रियता को लोगों का जमकर मिल रहा है समर्थन,जनता ने जताया आभार

हिमाचल में जो पॉजिटिव केस सामने आये थे वो जिला कांगड़ा के थे। हिमाचल में सबसे ज्यादा विदेश से लौटने वाले जिला कांगड़ा के थे ,इन सबके बीच इन दोनों अफसरों की मैनेजमेंट ने सब कुछ आसान कर दिया।

डीसी राकेश प्रजापति तो सच में अपने सरनेम को साबित कर रहे हैं। आपको हम बता दें की प्रजापति का अर्थ होता है राजा और ये राजा की तरह ही अपनी प्रजा को अपनी प्रतिभा बता रहे हैं। जिला कांगड़ा का यह युवा अधिकारी जनता के लिए दिन-रात एक किए हुए है। सुखद बात यह भी है कि कांगड़ा के विभिन्न उपमण्डलों में तैनात एसडीएम भी युवा हैं। युवा डीसी की बनाई रणनीति पर डाउन लाइन के अफसर खुद दफ्तरों से निकल कर जनता को लाड़-प्यार से घरों में बिठाए हुए हैं। शायद यही वजह है कि आम पब्लिक अपने हिस्से में आए इन खास अफसरों की सुरक्षा के लिए दुआएं मांग रही है।

अब बात करते हैं जिला कांगड़ा के एसपी विमुक्त रंजन की। शायद बहुत से लोग इनके बारें में जानते होंगे क्योंकि कांगड़ा का एसपी बनने से पहले आप सभी इन्हे पीएम मोदी के साथ कई बार देख चुके होंगे। यह वही विमुक्त रंजन हैं जो पीएम नरेंद्र मोदी के सुरक्षा घेरे यानि एसपीजी(SPG) में सबसे अहम अंतिम पायदान पर उनके अंग-संग रहते थे। यानि पीएम मोदी जी की सुरक्षा घेरे के सरेआम नजर आने वाले यह मोदी जी की सुरक्षा में सेनापति रहे हैं। बीते पांच साल तक विमुक्त पीएम मोदी जी के साथ हर जगह मौजूद रहते थे।

अब उसी अहम सुरक्षा चक्र को एसपी विमुक्त रंजन ने कांगड़ा जिला की आम आदमी की सुरक्षा के लिए लागू कर दिया है।बस अब फर्क इतना है कि पहले पीएम मोदी की सुरक्षा में इनकी नजरें दिन रात जागती थी और अब इनकी नजरें आम आदमी की सुरक्षा में जाग रही हैं। कांगड़ा का हर आदमी इस सुरक्षा चक्र की वजह से पीएम की ही तरह खुद को महफूज़ महसूस कर रहा है।एसपी विमुक्त दिन चढ़ने से पहले फील्ड में शिकंजा कसते हैं और आधी रात से ज्यादा वक्त तक यह पकड़ मजबूत बनाए रखते हैं। यही वजह है आज इन दोनों युवा अफसरों की वजह से जिला कांगड़ा में कोरोना जैसी महामारी में भी सभी अपने आपको सुरक्षित समझ रहे हैं।

 

Related posts

कांग्रेस और मनमोहन सिंह की ईमानदारी को लगा अब तक का सबसे बड़ा झटका।

Viral Bharat

Himachal News – कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में सब एक,सर्वदलीय बैठक में अहम फैसले

Viral Bharat

दिल्ली के हिंसक प्रदर्शनों से आ रही एक बार फिर उसी साजिश की बू, शक में दायरे में ( PFI ) पीएफआई

Viral Bharat