राजनीती राज्यों से

Himachal News – मिलनसार ईमानदार छवि वाले बंजार के युवा MLA Surender Shourie की छवि खराब करने की कोशिश,एक दिन में खुली पोल

सबकी मदद में हमेशा आगे रहने वाले बंजार के विधायक सुरेंद्र शौरी को बदनाम करने की साजिश की एक दिन में ही खुल गयी पोल। जैसा की सब जानते ही हैं देश में कोरोना को लेकर इसमें लॉक-डाउन चला हुआ है। इस दौरान हिमाचल प्रदेश में भी कई गैर हिमाचली फंसे हुए हैं। उनके खाने का पूरा प्रबंध सरकार के साथ – साथ जिला प्रशासन और कई संगठन कर रहे हैं। इन सबके बीच एक वीडियो कल से वायरल हो रहा है। जिसमें कुछ मजदूर ये बोलते हुए नजर आ रहे थे की उन्हें राशन नहीं मिल रहा है खाने के लिए। वो वीडियो बंजार में जानबूझकर बनाई गयी वीडियो थी ताकि विधायक सुरेंद्र शौरी की छवि को खराब किया जा सके। बंजार में बच्चा-बच्चा भली भांति विधायक की ईमानदार छवि से परिचित है यही वजह रही की इस झूठ के शाम होते होते ही पर्दाफाश हो गया।

ये हरकत पुलिस के एक हेड कॉन्स्टेबल ने जानबूझकर की थी यहाँ के स्थानीय विधायक शौरी से अपनी निजी ख़ुदस निकालने के लिए। विधायक के नाम की एक वीडियो वायरल की गई हैं। जिसमें हैंड कॉन्स्टेबल ने यहां रह रहे मजदूरों को यह कहने के लिए उकसाया कि उनको राशन तब मिलेगा जब बे यह कहेंगे कि यहां के विधायक ने उनके लिए कुछ नहीं किया, न उनका फोन उठाया औऱ न ही एस डी एम ने उनके ठहरने औऱ खाने पीने की व्यवस्था की। जबकि विधायक ने विशेष रूप से सोशल मीडिया के माध्यम से, सभी बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं को बंजार नगर के अध्यक्ष कुंज लाल को विशेष रूप से कहा गया है कि अगर कोई भी जिला के बाहर, स्टेट के बाहर से यहाँ कोई मजदूर या अन्य कारणों से फसें लोग हैं, उनको किसी भी प्रकार की दिक्कत हो राशन की समस्या हो उनको तुंरत राशन औऱ अन्य रहने की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। ये वोही विधायक सुरेन्द्र शौरी हैं जिनका इंटरनेशनल विजिटर लीडरशिप प्रोग्राम में चयन हुआ था अपनी कार्यशैली की वजह से। 

नीचे दी गयी कुछ तस्वीरें देख आप समझ जायेंगे की ये कितने सरल और जमीन से जुड़े हुए है जो अक्सर जनता के बीच में रहते हैं। यही वजह है उस झूठी वीडियो के बाद से ही बंजार की जनता में काफी आक्रोश देखने को मिला।

Image may contain: 6 people, people standing, outdoor and nature

Image may contain: 15 people, people smiling, people standing and outdoor

Image may contain: 3 people, people smiling, outdoor, close-up and nature

28 मार्च का ये पोस्ट अपने आप विधायक ने अपने फेसबुक पेज से किया था –

वीडियो में साफ तौर पर हेड कॉन्स्टेबल को विडीयो बनाते हुए और यह कहते हुए पाया गया है कि अब बोलो औऱ विडीयो शुरू होती है जिसमें बार बार इस बात पर जोर दिया गया है कि विधायक कुछ नहीं कर रहा है, उनको राशन नहीं दिया गया है, उनका फ़ोन नहीं उठाया जा रहा हैं, जबकि यह एक पहले से उकसा कर इस तरह की बात करने के लिए कहा गया हैं। इसकी सूचना जब डीएसपी औऱ एस पी को मिली तो उन्होंने हेड कॉन्स्टेबल पर तुरंत एक्शन करते हुए उसे सस्पेंड कर दिया औऱ जबतक इस घटना की पूरी जानकारी साफ़ नहीं होती तब तक हैड कांस्टेबल को लाइन हाजिर का आर्डर दिया गया हैं।

पत्रकारों को उन्ही लोगों ने दुवारा अपना बयान दिया जिसमें उस पुलिस कांस्टेवल की पोल खोली गयी –

इसके साथ ही विधायक सुरेंद्र शौरी ने हैड कांस्टेबल के खिलाफ अपनी निजी छवि को खराव करने का मामला दर्ज किया गया है। विधायक की तरफ से साफ़ कहा गया है की वो अपनी छवि खराब करने वाले उस पुलिस कर्मी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा भी करेंगे। साथ में विधायक ने जानकारी दी कि अभी तक 53 लोगों को जो बाहर राज्य से आए हैं को राशन वितरित किया गया है।

Related posts

कैसे हुआ कश्मीरी हिन्दुओं का कत्लेआम …क्या कभी सोनिया या राहुल गाँधी ने कश्मीरी हिन्दुओं के लिए आज तक एक बार संसद में आवाज़ उठाई ?

Viral Bharat

उत्तर प्रदेश के कत्लखानो में लटके ताले …कसाइयों की हिम्मत नहीं हो रही पशु वध करने की !

Viral Bharat

कांगड़ा को बड़ी राहत ,कोरोना पॉजिटिव के साथियों की रिपोर्ट नेगेटिव

Viral Bharat