राजनीती राज्यों से

Himachal News – कोरोना महामारी से निपटने के लिए CM जयराम द्वारा उठाये गए कदमो की,पूरे देश मे चर्चा

आज पूरी दुनिया कोरोना के खिलाफ एकजुट होकर लड़ रही है। जहां एक तरफ पूरी दुनिया में इस महामारी की वजह से हाहकार मचा हुआ है तो दूसरी तरफ भारत में काफी हद तक अभी हालत समान्य हैं। ये हो पाया है केंद्र की मोदी सरकार और राज्य सरकार द्वारा उठाये गए प्रभावी कदमों के कारण। आज WHO जैसे संगठन भी भारत की तैयारियों को लेकर भारत की तारीफ कर चुके हैं लेकिन कांग्रेस को शायद अभी तक कुछ अच्छा नजर नहीं आया इस वजह से वो इस मौके में भी राजनीती करती हुई नजर आई है।

सोशल मीडिया के माध्यम से भी मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा समय-समय पर प्रदेश की जनता के नाम संदेश आ रहे हैं। इस महामारी पर जयराम सरकार द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का कार्य भी बहुत अच्छे से किया जा रहा है।


एक नजर हिमाचल की जयराम सरकार द्वारा उठाये गए प्रभावी कदमों पर –

Janata Curfew In Himachal Cm Jairam Thakur Appeal To Public ...

23 MARCH —

1. कोरोना को लेकर बड़ा कदम उठाते हुए राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश के लिए जारी की थी लाकडाउन की अधिसूचना!

2. साथ ही उठाया था ये बड़ा कदम मुख्यमंत्री की तरफ से साफ़ आदेश दिए गए थे कि 9 मार्च, 2020 या उसके बाद विदेश से देश में आने वाले सभी नागरिकों को होम क्वारटाईन निर्णय का पालन करना आवश्यक होगा। ऐसे सभी विदेश से आए नागरिकों के लिए संबंधित जिला निगरानी अधिकारी को सूचित करना अनिवार्य होगा और 104 टोल फ्री नंबर पर होम क्वारटाईन के लिए खुद को पंजीकृत करवाना होगा। इन आदेशों के उल्लंघन करने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

3. जरूरी उत्पादों में कमी ना हो इसलिए जयराम सरकार ने सेनिटाईजर उत्पादन इकाइयों को सेनिटाइजर बनाने की तत्काल अनुमति देने का काम किया !

24 MARCH —

1. राज्य सरकार ने कोविड-19 महामारी से निपटने व अन्य बचाव उपायों के लिए स्वास्थ्य विभाग को 10 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि स्वीकृत की थी ।
यह राशि पहले स्वीकृत किए गए पांच करोड़ रुपये के अतिरिक्त थी।यह राशि राज्य आपदा प्रतिक्रिया राशि से व्यक्तिगत रक्षात्मक उपकरण क्रय करने और राज्य में प्रयोगशाला सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए स्वीकृत की गई थी ।

2. हिमाचल प्रदेश में कफ्र्यू लागू करने का निर्णय लिया ताकि कोरोना जैसी महामारी को हिमाचल में पैर पसारने से रोका जा सके। जिला प्रशासन के साथ प्रभावी एवं बेहतर समन्वय के लिए जिला स्तरीय समन्वयन समिति गठित की गई , ताकि राज्य के लोगों को किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े और आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित हो।

3. एनएफएसए परिवारों को गंदम आटा व चावल का कोटा वितरित करने के आदेश दिए गए !

4. जयराम सरकार ने ठोस कदम उठते हुए प्रदेश में पहले 912 लोगों को निगरानी में रखा । लोगों की जांच के लिए सैंपल लिए गए हैं ये प्रभावी कदम उठाकर सरकार ने कोरोना के खिलाफ अपनी तैयारियों को दिखा प्रदेश को लोगों को हौसला दिया।

25 MARCH—

1. राज्य सरकार ने एमओ और पैरामेडिकल स्टाफ की सेवानिवृत्ति अवधि बढ़ाने के आदेश दिए।

2. लाॅकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने उचित और प्रभावी कदम उठाते हुए अहम बैठक की ।
बैठक में तय हुआ कि राज्य में राशन, दालों और खाद्य तेलों का पर्याप्त भंडार है और पर्याप्त मात्रा में दूध और ब्रेड की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए भी प्रभावी कदम उठाए जाएंगे।आवश्यकता हुई तो उपभोक्ताओं की सुविधा और अनावश्यक भीड़-भाड़ से बचाव के लिए दुग्ध संग्रह केंद्रों की स्थापना की जाएगी।

3 . पशुओं के चारे की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त कदम उठाए जाने की बात तय गयी । घुमंतू गद्दी और गुर्जरों और उनके झुंडों को प्रतिबंधित नहीं किया जाने की बात हुई और उनकी सुरक्षा के लिए सभी निवारक उपाय किए जाएं ये आदेश दिए गया ।

4. राज्य कार्यकारिणी समिति ने कोविड-19 के प्रबंधों की समीक्षा की ।

26 MARCH —-

1.मुख्यमंत्री ने आवश्यक वस्तुओं की प्रभावी आपूर्ति बनाए रखने के निर्देश दिए।

2. सरकार ने सैन्य और अर्धसैनिक बलों के सेवानिवृत्त एमओ और पैरामेडिक्स को नियुक्ति प्रस्ताव दिया।

3.प्रदेश सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों को 31 मार्च, 2020 तक बन्द रखने के निर्देश दिए।

4.कफ्र्यू में छूट के दौरान किसानों और बागवानों के लिए उर्वरक भी उपलब्ध करवाई जाने की बात तय हुई।

5. लोगों की सुविधा के लिए 104 और 1077 हेल्पलाइन भी शुरू की गई ।

27 MARCH —

1. निजी स्कूलों में फीस जमा कराने की अन्तिम तिथि 30 अप्रैल तक बढ़ाई गई ! सरकार के इस कदम से निजी स्कुल में पढ़ने बच्चों के माता-पिता को हुआ फायदा।

2. यह सुनिश्चित करने के लिए कि लोग आवश्यक वस्तुओं की खरीद कर सकें और उचित सामाजिक दूरी बनी रहे, राज्य सरकार ने बीते दिन कफ्र्यू में छह घंटे की ढील देने का फैसला किया था। लेकिन यह महसूस किया गया है कि लोग इस ढील का दुरुपयोग कर रहे हैं और अनावश्यक रूप से बाहर आ रहे हैं जिसके कारण कफ्र्यू का उद्देश्य सफल नहीं हुआ है।। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने अब कफ्र्यू में रोजाना तीन घंटे की ढील देने का फैसला किया है ताकि लोग अपने घरों के पास आवश्यक वस्तुओं की खरीद कर सकें।

3. कोरोना वायरस को लेकर वीडियो काॅन्फ्रेंस। भारत के राष्ट्रपति और उप-राष्ट्रपति ने लिया राज्यों की तैयारियों का जायजा।राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने राष्ट्रपति भवन और राजभवन के बीच आयोजित डिजिटल वीडियो काॅन्फ्रेंस में भाग लिया।

4. विधवाओं तथा दिव्यांगजनों को 01 अप्रैल, 2020 से दी जाने वाली सामाजिक सुरक्षा पैंशन की दरों को 850 रुपए से बढ़ाकर 1000 रूपये किया गया था सामाजिक सुरक्षा पैंशन की दरों को बढ़ाने की अधिसूचना जारी की गयी।

28 MARCH —

1. कोविड-19 की सहायता के लिए राज्य व जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र स्थापित !

2. कोरोना प्रभावितों की मदद को दान के लिए सरकार ने खोला नया खाता !एचडीएफसी बैंक की छोटा शिमला स्थित शाखा में एक नया बैंक खाता संख्याः 50100340267282, आईएफएससी संख्याः एचडीएफसीे0004116 खोला है। कोरोना वायरस के प्रभावितों की सहायता के लिए जो भी व्यक्ति अंशदान करना चाहते हैं वो इस खाते में उदारतापूर्वक दान कर सकते हैं।इस नेक कार्य के लिए दानकर्ता आनलाइन लिंक www.himachal.nic.in पर भी दान कर सकते हैं।

3. प्रदेश सरकार ने कोविड-19 से संबंधित जानकारी और सहायता प्रदान करने के लिए राज्य और जिला स्तर पर आपातकालीन परिचालन केन्द्र स्थापित किए ।
राज्य सरकार पर आपातकालीन परिचालन केन्द्र का प्रभारी प्रवीन भारद्वाज को बनाया गया है, जिन्हें दूरभाष संख्या 0177-2629439 और 2629939 अथवा टोल फ्री नंबर 1070 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

जिला बिलासपुर में चन्दन को जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र का प्रभारी बनाया गया है ( 01978-224901
जिला चम्बा में सुमित गुप्ता को जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र का प्रभारी तैनात किया गया है ( 01899-226951)

हमीरपुर जिला में विकास शर्मा जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र के प्रभारी ( 01972-221277 )
कांगड़ा जिला में रोबिन जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र के प्रभारी बनाए गए ( 01892-229050 )
किन्नौर जिला में नरेन्द्र को प्रभारी बनाया गया है ( 01786-223151 )
कुल्लू जिला में राकेश प्रभारी बनाए गए हैं ( 01902-225630 )

लाहौल-स्पीति जिला में नितिन को प्रभारी बनाया गया है(01900-202509)
मण्डी जिला में विकास को जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र का प्रभारी बनाया गया (01905-226201 )
शिमला जिला में नेहा जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र का प्रभारी बनाया गया (0177-2800880 )

सिरमौर जिला में अरविन्द को प्रभारी नियुक्त किया गया है ( 01702-226401 )
सोलन जिला में गौरव शर्मा केन्द्र के प्रभारी ( 01792-220882 )
ऊना जिला में धीरज जिला स्तरीय आपातकालीन परिचालन केन्द्र के प्रभारी ( 01975-225045 )

4. किसानों और बागवानों को पौध संरक्षण सामग्री जैसे स्प्रे तेल, फफूंदनाशक और उर्वरक आदि प्रदान करने के लिए प्रदेश में 300 पौध संरक्षण केंद्र खुले रहेंगे ये ऐलान हुआ ताकि किसानों को परेशानी ना हो।

29 MARCH —

1.दिल्ली-चंडीगढ़ में फंसे हिमाचलियों के लिए सरकार ने की वैकल्पिक व्यवस्था !(दिल्ली -9868539423,8802803672,0113711964) (चंडीगढ़ -8146313167,998898009,01725000104,01722638278)

2.सामाजिक दूरी बनाने के लिए हिमाचल के विचाराधीन कैदियों को मिलगी अस्थाई जमानत !

3 . केन्द्र ने हिमाचल को पीएमकेएसएनवाई के तहत 110.14 करोड़ जारी किए

30 MARCH —

1.मुख्यमंत्री जयराम ने बड़ा निर्णय लेते हुए घोषणा की स्वास्थ्य कर्मी घर-घर जाकर देंगे कोविड-19 वायरस के लक्षणों की जानकारी !

2.जयराम सरकार की तरफ से घोषणा की गयी की राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष धन का उपयोग लाॅकडाउन में फंसे लोगों के भोजन के लिए करेगी !

3 . दिल्ली एनसीआर में फंसे प्रदेश के लोगों की सहायता के लिए हिमाचल भवन, नई दिल्ली में एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है, जो रात-दिन कार्य करेगा।इस नियंत्रण कक्ष में प्रातः 10 बजे से सायं 5 बजे तक दूरभाष संख्या 011-23716574, 23711964 और 24105386 पर सम्पर्क किया जा सकता है। सायं 5 बजे से प्रातः 10 बजे तक हेल्पलाइन नम्बर 011-23716124-27 और 011-24105386-88 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

31 MARCH–

1. दिल्ली में गैर-सरकारी संस्थाओं से हिमाचलवासियों की मदद का अनुरेाध !

2. 14 अप्रैल तक बंद रहेंगे सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान !

Image may contain: 1 person, text

 

3 . दूसरे राज्यों में रह रहे हिमाचली लोग किसी भी प्रकार की सहायता के लिए उन राज्यों द्वारा स्थापित नंबरों पर काॅल कर सकते हैं।

आंध्र प्रदेश-9440484879 और 08662488000
अरुणाचल प्रदेश-0360-2005159, 0360-2005160 और 09436074396,
असम-0361-2237219, 2217786 और 0361-2237011 (फैक्स),
बिहार-0612-2217305 और 0612-2217786 (फैक्स),
छत्तीसगढ़-0771-2221242 और 0771-2223471,
गोवा-2419439 और 2419444,
गुजरात-079-23251900 और 079-23251509,
हरियाणा-0172-2711925 और 0172-2545938,
जम्मू व कश्मीर- 0194-2477261, 2455165 और 2484837,
झारखंड-0651-2446923, 2400218 और 0651-2446923 (फैक्स),
कर्नाटक-080-22032416/1070 और 080-22340676 (फैक्स),
केरल-0471-2364424, 0471-2331639 और 0471-2333198 (फैक्स),
मध्यप्रदेश -0755-2441419 और 0755-2440032 (फैक्स),
महाराष्ट्र-022-22027990, 022-22025274 और 022-22026712 (फैक्स),
मणिपुर-0385-2450301,
मेघालय-0364-2502098 और 2225669,
मिजोरम-0389-2342520 और 0389-2306518 (फैक्स),
नागालैंड-0370-2291120, 2291122 और 08731009677,
नई दिल्ली-1077,
ओडिशा-0674-2395398, 0674-2534177 और 0674-2391871 (फैक्स),
पंजाब- 0172-2749901,
राजस्थान-0141-2227296, 0141-5110869 और 0141-2227230 (फैक्स),
सिक्किम-03592-201145 और 03592-201075 (फैक्स),
तमिलनाडु-044-28593990, 044-8592921 (फैक्स), 044-28414553, 044-28414553 044-28550867 (फैक्स) और 044-28528745,
तेलंगाना-040-23454088, त्रिपुरा-0381-2416045 और 0381-2418053,
उत्तर प्रदेश-0522-2237515 और 2238084 (फैक्स),
उत्तराखंड-0135-2710334, 6555523 , 2710232, 2710081, 09557444486 और 0135-2710335 (फैक्स) और
पश्चिम बंगाल-033-22143526 और 033-22144005 (एफ)।

इसके अलावा, हिमाचल प्रदेश के कंट्रोल रूम नंबर 0177-2622204, 0177-2628940, 2629688, 2629939 और 0177-2621154 (फैक्स) हैं और प्रदेश में जिन लोगों को किसी भी प्रकार की सहायता की आवश्यकता है, वह इन नंबरों पर काॅल कर सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों में स्थापित किए गए आपदा नियंत्रण कक्षों का टोल फ्री नम्बर 1077 है, जिन्हें आपातकालीन संचालन केंद्र कहा जाता है।

ये वो कदम है जो जयराम सरकार उठा चुकी है कोरोना को लेकर प्रदेशवासियों की सुरक्षा के लिए। फिर भी राजनीती करने वाली कांग्रेस को प्रदेश सरकार द्वारा उठाये गए कदम नजर नहीं आ रहे हैं। समय समय पर जयराम सरकार द्वारा लोगों के सेम्पल भी जांच के लिए भेजे गए हैं जो अब तक नेगटिव ही पाए गए हैं। लॉक डाउन की वजह से हम कोरोना को रोकने में काफी हद तक कामयाब रहे हैं इसका पालन जरूर करें।

Related posts

हिमाचल में आयुष नीति लागू, आयुर्वेद पद्धति से होगा मरीजों का उपचार,पर्यटन को भी मिलेगा बढ़ावा

Viral Bharat

Himachal News – झूठी खबरें फैलाने वालों की ख़ैर नहीं जयराम सरकार ने किया फेक न्यूज माॅनिटरिंग यूनिट का गठन

Viral Bharat

हिमाचल में शिक्षकों के 4 हजार नए पद भरने का रास्ता साफ,जानिए किस विभाग को मिले कितने पद

Viral Bharat