राजनीती राज्यों से

Himachal News – निजामुद्दीन में 15 हिमाचलियों के क्वारंटीन होने के बाद चंबा में हाई अलर्ट,जानिए हिमाचल पर इसकी पूरी रिपोर्ट

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात में शामिल लोगों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि और हिमाचल के 15 लोगों को क्वारंटीन किए जाने के बाद प्रदेश का चंबा जिला हाई अलर्ट पर है। फरवरी में दर्जन भर लोग जमात में शामिल होने के बाद चंबा लौटे थे। इन सभी की जिला प्रशासन सूची तैयार कर स्वास्थ्य विभाग की टीमों की मदद से मेडिकल रिपोर्ट तैयार कर रहा है।

हालांकि, अब विधानसभा उपाध्यक्ष व कोरोना को लेकर गठित जिला समन्वय समिति के अध्यक्ष हंसराज ने डीसी चंबा को निर्देश दिए हैं कि वह एसडीएम चंबा, चुराह, सलूणी और डलहौजी के नेतृत्व में स्पेशल टास्क फोर्स गठित कर इनके क्षेत्राधिकार वाले इलाकों में विशेष अभियान चलाकर उन सभी लोगों की सूची तैयार करे जो फरवरी व मार्च महीने में तब्लीगी जमात के मरकज या किसी अन्य जगह हुई तकरीर या किसी अन्य जलसे में शामिल होने गए थे।

इन लोगों को चिह्नित कर उनके परिवारों की एक मेडिकल रिपोर्ट तैयार की जाएगी कि किसी को कोई बीमारी या मृत्यु तो नहीं हुई है। यह कवायद इसलिए की जा रही है क्योंकि पिछले एक महीने में आए कई लोग मुख्य रास्तों की बजाय पहाड़ी पगडंडियों से घरों को लौटे हैं। हंस राज ने कहा कि चूंकि जो लोग दिल्ली में क्वारंटीन किए गए हैं, वह तो चिह्नित हो गए हैं लेकिन अभी भी कई लोग बीते कुछ समय में चंबा के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में लौटकर रहने की सूचना मिली है जिसकी पुष्टि की जा रही है। हंस राज ने बताया कि इसके अलावा जिले में चल रहे कई मदरसों में भी आने वालों की सूची तैयार की जाएगी।

Himachal News – चंडीगढ़ के हिमाचल भवन में अभी रह रहें है 5 हिमाचली कोई रसूखदार का बच्चा नहीं,सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने वालों की फिर खुली पोल

दिल्ली में धारा 144 के बावजूद निजामुद्दीन में हुए धार्मिक जलसे में शामिल 2000 लोगों में 29 हिमाचल के हैं। इनमें 17 दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में क्वारंटीन किए गए हैं, जबकि 12 लोग पहले ही प्रदेश लौट आए हैं.दिल्ली में चंबा के 14 लोगों के अलावा कुल 24, सिरमौर और ऊना के अंब के 2-2 और एक कुल्लू जिले का रहने वाला है। फिलहाल इनमें कोरोना पॉजिटिव होने के लक्षण नहीं है। सभी लोग सलूणी, तीसा, चुराह, भुंतर, अंब और पांवटा साहिब के रहने वाले हैं।

इसी को लेकर चंबा जिले में हाई अलर्ट जारी किया गया है। हिमाचल में आ चुके दो लोगों को क्वारंटीन कर लिया है, जबकि 10 की तैयारी है। उधर, बीबीएन में मस्जिद और मरकज में रह रहे 43 और अंब में 20 लोग क्वारंटीन में भेजे हैं।हिमाचल के लोगों की दिल्ली मकरज में होने की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए हैं। चंबा जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। जिला प्रशासन ने सभी लोगों के परिवारों को ट्रेस कर उनको एहतियात बरतने को कहा है।

Breaking – चेतावनी मिलने के बाद भी लापरवाह रही केजरीवाल सरकार, दिल्ली को डाला मुसीबत में तबलीगी जमात पर होती रही सिर्फ कागजी कार्रवाई

प्रदेश सरकार भी इस मामले पर सतर्कता बरत रही है। बताया जा रहा है कि इनके अलावा कुछ और लोग भी दिल्ली गए थे जो हिमाचल लौट आए हैं। उन्हें ढूंढा जा रहा है। उनका चेकअप कर उन्हें क्वारंटीन में रखने की तैयारी है। एसडीएम तीसा हेम चंद वर्मा ने 14 लोगों के दिल्ली में होने की पुष्टि की है। स्वास्थ्य जांच के बाद उन्हें क्वारंटीन में रखा जाएगा।

जिलावार शिफ्ट किए मैहतपुर में क्वारंटीन किए लोग

मैहतपुर में स्थापित क्वारंटीन सेंटर की तमाम व्यवस्थाओं में प्रशासन ने बदलाव कर दिया है। दिल्ली पंजाब, हरियाणा से आए मैहतपुर पहुंचे कांगड़ा, हमीरपुर और ऊना के लोगों को जिलावार शिफ्ट किया गया है। स्थानीय नगर परिषद के बाईया देसराज सामुदायिक भवन में क्वारंटीन किए गए इन लोगों को अब एक हाल में रखने के बजाय अलग-अलग सेंटरों में शिफ्ट किया है। बसदेहड़ा के सामुदायिक भवन में अब केवल कांगड़ा जिला के ही करीब 34 लोगों को रखा है। ऊना जिला से ताल्लुक रखने वाले करीब 33 लोगों को रायपुर सहोड़ां और हमीरपुर जिला के 21 लोगों को नंगड़ा में क्वारंटीन किया गया है।

सोमवार को इन सब को स्थानीय बाईया देसराज ठाकुर सामुदायिक भवन में रखा गया था। स्थानीय नगर परिषद अध्यक्ष मंजू चंदेल ने कहा कि इन लोगों के लिए तेल साबुन से लेकर सैनिटाइजर तक मुहैया करवा दिए गए हैं। सामुदायिक भवन में बने दस शौचालयों को खोला गया है। तीन अस्थायी शौचालयों का भी इंतजाम किया है। सुबह नाश्ता, दोपहर और रात का खाना उपलब्ध करवाया जा रहा है।

दिक्कतों पर अमर उजाला में समाचार प्रकाशित होने के बाद प्रशासन के हरकत में आते ही क्वारंटीन किए गए तमाम लोगों को सामाजिक संगठनों की सहायता से भी हरसंभव मदद दी जा रही है। नायब तहसीलदार राजेंद्र कुमार ने बताया कि क्वारंटीन किए लोगों को जिलावार शिफ्ट कर दिया गया है। उन्हें कोई दिक्कत न हो, इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा है। उपायुक्त संदीप कुमार ने बताया कि बीती शाम ही अधिकांश लोगों को यहां से शिफ्ट कर दिया गया था ताकि भीड़ कम की जा सके। स्थानीय प्रशासन को व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।

बीबीएन में मस्जिद और मरकज में मिले 43 लोग क्वारंटीन

दिल्ली के निजामुद्दीन में धार्मिक स्थल में हिमाचल के लोगों की सूचना ने खलबली मचा दी है। औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में मस्जिद व मकरज से भी ऐसे 43 लोगों की पहचान कर उन्हें क्वारंटीन कर दिया गया है। पुलिस व प्रशासन की टीमों ने बीबीएन में जगह-जगह पर धार्मिक स्थलों पर जाकर पड़ताल की और यहां आए लोगों को क्वारंटीन कर दिया। इनके लिए क्वारंटीन शेल्टर होम बनाए गए हैं। प्रदेश में भी निजामुद्दीन से आए लोगों की सूची जारी हो चुकी है। हालांकि, दिल्ली से आए ये लोग चंबा व कुल्लू से संबंधित हैं लेकिन सूबे में भी मुस्तैदी बढ़ गई है।

पड़ोसी राज्यों हरियाणा व पंजाब की सीमा से सटे औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन के धार्मिक स्थलों में जांच पड़ताल शुरू हो गई है। मंगलवार को यहां 43 लोग पाए गए, जिनमें नालागढ़ रामशहर मार्ग पर स्थित धार्मिक स्थल में 17 और बीबीएन के अन्य धार्मिक क्षेत्रों के लोग शामिल हैं। एसपी रोहित मालपानी ने कहा कि बीबीएन के धार्मिक स्थलों में से 43 लोगों की पहचान हुई है, जिन्हें क्वारंटीन करके शेल्टर होम में रखा गया है। एसडीएम नालागढ़ प्रशांत देष्टा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को इन लोगों के स्वास्थ्य जांच के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इनके रहने, ठहरने व खाने-पीने की व्यवस्था प्रशासन करेगा।

तब्लीग जमात में गए व्यक्ति के कुल्लू में प्रवेश पर रोक

वहीं, दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीग जमात में जिला कुल्लू के भुंतर का व्यक्ति भी शामिल होने गया था। पुलिस का कहना है कि इस व्यक्ति को अभी कुल्लू में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा। यह व्यक्ति 29 नवंबर 2019 को दिल्ली रवाना हुआ था और 20 अप्रैल तक वहीं रुकना था। पंचायत उपप्रधान रूचिन चौहान ने मंगलवार को बताया कि वह व्यक्ति के घर गए और इस संबंध में जानकारी ली है।

पंचायत इस पर नजर रखे हुए है। पुलिस अधीक्षक कुल्लू गौरव सिंह ने कहा कि अभी तक जांच में पाया है कि व्यक्ति अभी कुल्लू में नहीं है। वह अभी भी दिल्ली में है। कुल्लू पुलिस कड़ी निगरानी कर रही है। व्यक्ति के घर की भी जांच की गई है। व्यक्ति को फिलहाल कुल्लू में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

NEWS SOURCE

Related posts

Lock-Down के दौरान हिमाचल से पड़ोसी राज्यों को भेजी 6.82 लाख क्विंटल हरे मटर व ऑफ सीजन सब्जियां

Viral Bharat

पौंग जलाशय से 2800 मछुआरों को मिला रोजगार,जयराम सरकार इसकी अलावा भी कर रही है ये अच्छा कार्य जिससे मिल रहा है कई परिवारों को लाभ

Viral Bharat

दिल्ली पहुँचे CM जय राम हुई नितिन गडकरी से मुलाकात,हिमाचल को लेकर हुई इन अहम मुद्दों पर बात

Viral Bharat