राजनीती राज्यों से

सरकार का बड़ा कदम प्रदेश में स्थापित उद्योगों और होटलों के बिजली के डिमांड चार्ज में छह महीने की छूट, होटलों से बिजली सरचार्ज लेंगे आधा

हिमाचल की जयराम सरकार ने प्रदेश की अर्थव्यवस्था माने जाने वाले पर्यटन उद्योग को लॉक डाउन की मार से बचाने के लिए पिछले कल हुई कैबिनेट की बैठक में कई बड़े फैसले लिए हैं। कोरोना महामारी की वजह से टूरिज्म पूरी तरह खत्म हो चूका है। पिछले कल हुई बैठक में अधिकारियों की गठित कमेटी ने अपनी प्रस्तुति दी। इसमें प्रदेश के पर्यटन व्यवसाय से जुड़े होटल मालिकों को बिजली का सरचार्ज एक फीसदी कम किया जाएगा। पहले यह सरचार्ज दो फीसदी वसूला जाता रहा है।

होटलों से बिजली की डिमांड चार्ज में छह माह की छूट दी जाएगी। प्रदेश में स्थापित उद्योगों के बिजली के डिमांड चार्जेज में सरकार छह माह तक छूट देगी। निजी बस ऑपरेटरों के सभी प्रकार के टैक्स अप्रैल से चार माह तक माफ किए जाएंगे।

अब इस कमेटी की सिफारिशों को कैबिनेट सब कमेटी के पास भेजा गया है। माना जा रहा है कि सरकार जल्द ही विभिन्न क्षेत्रों को रियायतें देगी। एक अन्य प्रस्तुति में प्रदेश में आपदा प्रबंधन को लेकर किए गए कार्यों की जानकारी भी मंत्रिमंडल के समक्ष दी गई।

मुख्यमंत्री रोजगार गारंटी योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के मनरेगा कामगारों की तर्ज पर प्रदेश के शहरी बेरोजगारों कामगारों को रोजगार दिया जाना है। इसके लिए शहरी विकास विभाग की नोडल एजेंसी की भूमिका रहेगी। यह विभाग ऐसे शहरी कामगारों की पहचान करेगा ताकि ऐसे प्रभावित कामगारों को रोजगार देकर राहत पहुंचाई जा सके।

Related posts

1984 सिख हत्याकांड पे राहुल गाँधी ने बोला सफेद झूठ….पाकिस्तानी की ISI को अप्रयत्क्ष समर्थन दे के कांग्रेस चलवा रही है खालिस्तान का प्रोपेगंडा !

Viral Bharat

जो काम बार-बार दफ्तरों के चकर काटने से नहीं होते थे,मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से एक झटके में हो रहे हैं एक ऐसी खबर एक बार फिर आपके लिए

Viral Bharat

Himachal News – जयराम सरकार राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष धन का उपयोग लाॅकडाउन में फंसे लोगों के भोजन,दूसरी जरूरी चीजों के लिए करेगी

Viral Bharat