राजनीती

अब जनधन योजना के तहत प्राइवेट बैंक में भी खुलवा सकते हैं खाता, मिलने लगेगा सरकारी योजनाओं का आसानी से लाभ

केंद्र की मोदी सरकार की ओर से ज्यादातर कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री जन धन योजना के खातों का ही इस्तेमाल किया जाता है।आपकी जानकारी के लिए हम बता दें की अब जनधन खाता आप प्राइवेट बैंक में भी खुलवा सकते हैं।

इस कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए लागू हुए लॉकडाउन के दौरान भी केंद्र की मोदी सरकार ने उज्ज्वला स्कीम और जन धन योजना की महिला लाभार्थियों को इन्हीं खातों के जरिए मदद की है। अप्रैल से लेकर जून तक तीन महीने 20 करोड़ महिलाओं के खाते में 500 रुपये आने हैं। वित्तीय समावेशन के मकसद से शुरू की गई इस स्कीम के तहत आप भी अपना खाता खुलवा सकते हैं। यही नहीं यदि आपके पास कोई सरकारी बैंक मौजूद नहीं है तो निजी बैंक में भी खाता खुलवा सकते हैं।

इन निजी बैंकों में भी खुल सकता है आपका बैंक अकाउंट

– HDFC बैंक
– ICICI बैंक
– Axis बैंक
– फेडरल बैंक
– इंड्सइंड बैंक
– आईएनजी वैश्य बैंक
– कर्णाटक बैंक
– कोटक महिंद्रा बैंक
– येस बैंक
– धनलक्ष्मी बैंक

बचत खाता भी स्कीम के तहत हो सकता है ट्रांसफर: जन धन योजना का खाता खुलवाने के लिए यह जरूरी है कि आपके पास भारत की नागरिकता हो और आयु 10 वर्ष से अधिक हो। इसके अलावा यह भी जरूरी है कि कहीं और आपका कोई अन्य खाता न हो। हालांकि यह सुविधा भी दी जाती है कि आप अपने बेसिक सेविंग्स अकाउंट को जन धन योजना के अकाउंट में ट्रांसफर करा सकते हैं। इसके लिए आपको बैंक मैनेजर के समक्ष एक आवेदन करना होगा कि आपके खाते को जन धन योजना के तहत ट्रांसफर किया जाएगा।

ये दस्तावेज हैं जरूरी: जन धन योजना के तहत खाता खुलवाने के लिए आपको अपने आवेदन के साथ केवाईसी पूरी करने के लिए कुछ दस्तावेज सौंपने होंगे। आप पासपोर्ट, आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड आदि के जरिए जन धन योजना के तहत बैंक खाता खुलवा सकते हैं।

Related posts

सेक्युलरिज़्म के नाम पे बहुसंख्यक हिन्दू को परेशान किया गया..

Viral Bharat

अरे वाह! गजब का मीडिया ग्रुप है, जिसे अपने राज्य के कैबिनेट मंत्री के नाम तक का पता नहीं ?

Viral Bharat

युवाओ के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने देगी जयराम सरकार,फर्जी तरीके से भर्ती हुए नौ पुलिस कर्मचारियों पर एफआईआर

Viral Bharat