राजनीती

रतलाम – हाथ चूम कर लोगों का इलाज करने वाले असलम बाबा की कोरोना से मौत, 29 को बांट गया वायरस, लोगों की तलाश जारी

साबधानी हटी दुर्घटना घटी ओर कोरोना काल में अगर कोई साबधान नहीं रहता है तो ये सबसे बड़ी लापरवाही है। झाड़ फूंक, टोना-टोटका और अंधविश्वास के सहारे धर्म-कर्म से भोले-भाले लोगों की बीमारी और समस्याएं दूर करने वाले बाबा आपको बीमारी भी परोस सकते हैं। आप सभी से निवेदन है कि कृपया इस तरह के लोगों से खुद भी बचें ओर दूसरों को भी सचेत करें।

कोरोना बीमारी से इलाज के लिए सरकार लगातार लोगों को जागरूक कर रही है। उसके बावजूद भी कुछ लोग अंधविश्वास के चक्कर में पड़ जा रहे हैं। रतलाम में कुछ अंधविश्वासी लोग कोरोना के लक्षण दिखने के बाद इलाज करवाने के लिए एक बाबा के पास जाते थे। कोरोना से 4 जून को बाबा की मौत हो गई है। उसके बाद इलाज कराने गए लोगों की रिपोर्ट भी दनादना कोरोना पॉजिटिव आ रही है। अब रतलाम शहर में हड़कंप मचा हुआ है।

दरअसल, रतलाम के नयापुरा इलाके में रहने वाला असलम बाबा लोगों का हाथ चूम कर इलाज करता था। अंधविश्वास के चक्कर में पड़ कर शहर के लोग उसके पास इलाज करवाने जाते थे। असलम बाबा खुद कोरोना से संक्रमित था, उसके बाद भी वह लोगों से मिलता रहा था। 4 जून को असलम बाबा की मौत हो गई। बाबा के संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट अब कोरोना पॉजिटिव आ रही है।

स्थानीय अखबार की रिपोर्ट के अनुसार बाबा के संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट अब तक कोरोना पॉजिटिव आई है। जिला प्रशासन ने 29 बाबाओं को क्वारंटीन भी किया है। दरअसल, मंगलवार रात रतलाम शहर में 24 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। 24 में से 13 लोग नयापुरा इलाके के थे, जो बाबा के संपर्क में आए थे। बाबा के संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद नयापुरा इलाके में खलबली मची हुई है।

हाथ चूम भगाता था कोरोना

जानकारी के अनुसार असलम बाबा हाथ चूम कर कोरोना का इलाज करता था। प्रशासन द्वारा जागरूकता चलाए जाने के बाद भी स्थानीय लोग असलम से इलाज कराने जाते थे। वह तंत्र-मंत्र के जरिए कोरोना भगाने का दावा करता था। 4 जून को बाबा की कोरोना से मौत हुई, उसके बाद इसके संपर्क में आए लोगों की पड़ताल शुरू की गई, जिसमें से 7 जून को 6 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

गौरतलब है कि एमपी में कोरोना मरीजों की संख्या 10 हजार के पार पहुंच गई है। बुधवार को सिर्फ 200 मरीज सामने आए हैं। राजधानी भोपाल में भी बुधवार को 85 नए कोरोना मरीज मिले हैं, जबकि इंदौर में कोरोना के 51 मरीज मिले हैं।

Related posts

सीएम जयराम ने वित्त आयोग के समक्ष उठाए ये बड़े मामले, हवाई हड्डे के लिए मांगे 2000 करोड़ रुपये का विशेष अनुदान

Viral Bharat

एम्स के बाद अब चार सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बनेंगे,स्वास्थ्य विभाग ने किए 75 करोड़ के एमओयू, धरातल पर लाने को प्रयास तेज

Viral Bharat

अच्छी पहल – पंचायतों में आपदा से निपटने को 237 टास्क फोर्स तैयार, एक फोन पर मदद को पहुंचेंगे दस युवा

Viral Bharat