राजनीती राज्यों से

चीन विवाद के चलते प्रदेश में हुई हाई लेवल मीटिंग सीमांत इलाकों की सुरक्षा पर मंथन

भारत चीन विवाद में केंद्र की मोदी सरकार साफ़ रुख दिखा चुकी है वो पीछे नहीं हटेंगे। हिमाचल की सीमाएं भी चीन से लगती हैं इसलिए यहां भी हाईअलर्ट है।

भारत-चीन के बीच बढ़ते विवाद और किन्नौर व लाहौल से लगती करीब 225 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बढ़ती गतिविधियों के बीच शुक्रवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की पुलिस, आईटीबीपी व इंटेलिजेंस के अधिकारियों के साथ अहम बैठक हुई।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह मनोज कुमार, डीजीपी संजय कुंडू व एडीजी कानून व्यवस्था एन वेणुगोपाल के अलावा आईबी के भी प्रदेश स्तर के अधिकारी शामिल हुए। सूत्रों के मुताबिक इस दौरान भारतीय सीमा व प्रदेश के सीमांत इलाकों की सुरक्षा व सूचना तंत्र के अलावा किसी भी स्थिति से निपटने के लिए जरूरी संभावित उपायों पर चर्चा की गई।

साथ ही आला अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को विस्तार से सीमा क्षेत्र पर चल रही गतिविधियों और उठाए गए एहतियाती कदमों से भी अवगत कराया। साथ ही आपात स्थिति में किस तरह की तैयारी और कदम उठाए जा सकते हैं, इसको लेकर भी चर्चा हुर्ठ है।

बता दें, पहले ही डीजीपी के निर्देश पर लाहौल और किन्नौर जिलों के एसपी सीमांत क्षेत्रों के दौरे पर हैं, जहां वह लोगों से मुलाकात कर संपर्क बेहतर करने में जुटे हैं। साथ ही उन इलाकों में तैनात पुलिस कर्मियों को भी जरूरी निर्देश दे रहे हैं। बताया जा रहा है कि सीमांत क्षेत्रों के लोगों को पहले ही सीमा की ओर किसी सूरत में न जाने और रात में कम से कम समय कम गतिविधियां करने के लिए अपील की जा रही है।

Related posts

सीएम कार्यालय की सख्त तल्खी के बाद जागी अफसरशाही,बसंतपुर वृद्धाश्रम पहुंचे बुजुर्ग पति-पत्नी, दोनों के खिले चेहरे

Viral Bharat

Breaking News – हिमाचल में पर्यटकों के प्रवेश पर रोक की तैयारी, बाहरी राज्यों में नहीं भेजी जाएंगी बसें

Viral Bharat

फिर चला जयराम सरकार का चाबूक वीरभद्र सिंह सरकार के कार्यकाल में हुई अब एक और गड़बड़ी आई सामने जांच करेगी विजिलेंस

Viral Bharat