राजनीती राज्यों से वायरल

पहली बार कोई मुख्यमंत्री पहुँचा मलाणा गांव ,डेढ़ घंटे पैदल चलकर मलाणा पहुंचे मुख्यमंत्री ने अग्निकांड प्रभावितों का दर्द बांटा, मदद के लिए की घोषणाएं

करीब डेढ़ घंटे की खड़ी चढ़ाई चढ़कर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर शुक्रवार को कुल्लू जिले के मलाणा गांव पहुंचे। हिमाचल के इतिहास में जयराम ठाकुर पहले मुख्यंमत्री बने जो चलकर मलाणा गांव तक पहुंचे। यहां उन्होंने अग्निकांड से पीड़ित परिवारों से मुलाकात की और उनके लिए राहत योजनाओं का एलान किया। 27 अक्टूबर को मलाणा गांव हुए भीषण अग्निकांड में 16 मकान जलकर राख हुए थे। इस अग्निकांड में करीब 57 परिवार प्रभावित हुए हैं।

मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा कि संकट के समय मैं आपके बीच नहीं पहुंच सका, ये बोझ मेरे मन में था। हालांकि वीडियो कॉल के माध्यम से मैंने उस दौरान भी स्थिति का जायजा लिया था। उस दौरान अधिकारियों और कर्मचारियों ने आपके के लिए बेहतरीन कार्य किया। मेरे मन में हमेशा से इच्छा थी कि मलाणा जाकर देवता जमलू का आशीर्वाद लेना है।

जयराम ठाकुर ने अग्निकांड से प्रभावित हुए परिवारों को मुख्यमंत्री आवास योजना के अंतर्गत मकान बनाने के लिए राशि देने का एलान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दुख की घड़ी में हम आप लोगों के साथ हैं। आदमी पूरी जिंदगी की कमाई घर बनाने में लगा देता है और जब आपकी आंखों के सामने वो घर तबाह हो जाए तो बहुत दुख होता है।

जयराम ठाकुर ने कहा कि हालांकि एक बात संतोषजनक रही कि यहां कोई जानी नुकसान नहीं हुआ। इस गांव में बहुत सारी कठिनाइयां हैं। इसके बावजूद यहां लोगों ने बहुत अच्छे मकान बनाए हैं। हमारी संस्कृति हमारे लिए सर्वोपरि है। इस गांव की जो संस्कृति है उसको कायम रखना हमारा कर्त्वय है। हमारे देवता के प्रति जो भाव है वो सदैव रहना चाहिए। मलाणा के इस गांव ने देव संस्कृति को आज भी कायम रखा है। इसके लिए मैं आपको बधाई देता हूं।

‘छह महीने के भीतर पूरा होगा लिंक रोड का काम’
मुख्यमंत्री ने कहा कि मलाणा गांव की प्रगति के लिए सरकार ने प्रयास किए हैं। घर-घर तक नल लगाने का काम चला हुआ है। इस गांव के लिए पीएमजीएसवाई के अंतर्गत सड़क का काम भी चला हुआ है। जल्द ही आप लोगों की पीठ का बोझ कम होगा। मेरा विधानसभा क्षेत्र भी ऐसा है, जैसा मलाणा का इलाका है।

सीएम जयराम ठाकुर कहा कि जब सुबह पैदल इस गांव के लिए आ रहे थे तो बहुत से पर्यटक भी मिले। उनसे जब बात की तो उन्होंने बताया कि हम यहां ट्रैकिंग करने आए हैं। यदि यहां रोड की सुविधा होगी तो और टूरिस्ट भी आ सकेंगे।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मलाणा गांव तक सड़क बनाने के निर्देश दिए और कहा कि जब भी सर्दियों के बाद यह कार्य शुरू होगा उसे छह महीने के भीतर पूरा किया जाए। उन्होंने कहा कि अगली बार जब मैं आप लोगों के बीच आऊंगा तो सड़क मार्ग से आना होगा।

इस दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मलाणा गांववासियों के लिए करोड़ों की घोषणाएं भी की। उन्होंने मलाणा गांव तक लिंक रोड बनाने के लिए एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की। इसके साथ ही उन्होंने लोगों को घरद्वार स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए मलाणा में हेल्थ सब सेंटर खोलने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने मलाणा हाई स्कूल का दर्जा बढ़ाकर सिनियर सेकेंडरी करने की भी घोषणा की।

अग्निकांड प्रभावितों को मिलेगी ये मदद
जयराम ठाकुर ने अग्निकांड से प्रभावित हुए परिवारों को मुख्यमंत्री आवास योजना के अंतर्गत मकान बनाने के लिए राशि देने का एलान किया। इसके अलावा जिन लोगों के घर जले हैं उनके लिए मुख्यमंत्री ने ऐच्छिक निधि से 25-25 हजार रुपये और आंशिक प्रभावितों के लिए 10-10 हजार देने की घोषणा की। साथ ही मकान बनाने के लिए लकड़ी देने की भी बात कही।

मलाणा की ट्रैकर इंद्रा देवी को दी बधाई
मुख्यमंत्री जायका स्कीम के तहत मलाणा गांव के लिए सिंचाई की सुविधा देने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने महिलाओं की मांग पर मलाणा में किचन शेड के लिए दो लाख रुपये देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने पिन पार्वती दर्रा ट्रैक रिकॉर्ड दिनों में पार करने वाली टीम में शामिल मलाणा गांव की ट्रैकर इंद्रा देवी को बधाई दी। उन्होंने इंद्रा देवी के लिए ऐच्छिक निधि से 25 हजार देने की भी घोषणा की।

Related posts

उपचुनावों में कांग्रेस सहानुभूति पर सवार होकर इसे भुनाने की तैयारी में, क्या मुश्किल हुई भाजपा की डगर ?

Viral Bharat

प्रदेश की जयराम सरकार राज्य में पश्मीना उत्पाद को दे रही बढ़ावा,उठा रही है कई बड़े कदम

Viral Bharat

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का बड़ा निर्णय,नहीं आ सकती अभी दूसरे राज्यों की बसें प्रदेश किया साफ़ मना

Viral Bharat