राजनीती राज्यों से

शराब माफिया के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक जारी,सीएम जयराम ठाकुर दो टूक साफ़ बोल चुके हैं शराब माफिया किया जायेगा खत्म, योल झरेड़ में बरामद हुई है बड़ी खेप

जिला मंडी के सुंदरनगर के जहरीली शराब मामले के बाद उजागर हुए जहरीली शराब मामले को लेकर देश के विभिन्न राज्यों और हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों में छानबीन की चल रही है। इस मामले के उजागर होने के बाद अब यह बात सामने आई है कि शराब माफिया ने सिर्फ देसी शराब संतरा ब्रांड के साथ छेड़छाड़ करके ही नकली शराब तैयार नहीं की है, बल्कि अंग्रेजी ब्रांड की भी नकली शराब बिकती है। जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण है रविवार देर शाम शाहपुर थाना के तहत नेरटी पंचायत से सटे योल झरेड़ में एक घर से 66 बोतलें नकली शराब बरामद की है।

बड़ी बात यह है कि आरोपित राकेश कुमार के घर से जो शराब बरामद हुई है, उनके ब्रांड नाम ऐसे हैं, जो सामान्य तौर पर बाजार में न तो बिकते हैं और न ही किसी ने सुने हैं। नशा माफिया ने अपने ही हिसाब से नाम देकर नकली शराब तैयार कर ली है।

पुलिस टीम ने इसमें 40 बोतल रेस विस्की, साढ़े 11 बोतल हिमालयन मोंक रम व मैजिक मूमेंट की तीन बोतल और एक पेटी यानी 12 बोतल काला अंगूर ब्रांड की देसी शराब बरामद की है। सामान्य तौर पर इस ब्रांड की न तो शराब ठेकों में मिलती है और न ही अन्य किसी बीयर बार में ये ब्रांड मिलते हैं। इसके अलावा जो व्यक्ति शराब समेत पकड़ा गया है कि न ही उसका कोई शराब ठेका है और न ही शराब की कोई फैक्टरी, जोकि यह पिछले लंबे समय से शराब के कारोबार से जुड़ा हुआ है।

यहां बता दें कि सुंदरनगर में जहरीली शराब मामले के आरोपितों ने कांगड़ा में 450 पेटी शराब भेजी थी। इसकी तलाश के लिए कांगड़ा पुलिस ने जिला के अधिकतर शराब ठेकों में दबिश दे दी है, लेकिन अभी तक सिर्फ एक पेटी ही नकली शराब बरामद हुई है। जिसमें शाहपुर नेरटी के शराब ठेके से 21 जनवरी को जहरीली शराब बरामद हो पाई है, शेष 449 पेटी जहरीली शराब का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है।

Related posts

विधायक सुरेन्द्र शौरी ने वार्ड सदस्यों व आशावर्करों को बाँटे आक्सीमीटर,मास्क

Viral Bharat

पीएम मोदी ने बटन दबाकर धरातल पर शुरू किए 28197 करोड़ के उद्योग, एक लाख को मिलेगा रोजगार

Viral Bharat

ब्रेकिंग : सर्वे, UP में चलेगा हिन्दू वोट, BJP खींचेगी 280+

Viral Bharat